जानिये कंप्यूटर को कैसे फॉर्मेट करें

Advertisements
दोस्तों नमस्कार, अगर आप भी बहुत सारे अन्य लोगों की तरह अपने कंप्यूटर के बार बार हैंग होने से या अन्य किसी समस्या से परेशान हो रहे हैं तो फिर एक बार अपने कंप्यूटर या लैपटॉप को फॉर्मेट कर लीजिये, लम्बे समय से इस्तेमाल हो रहे कंप्यूटर में बहुत सारी अनावश्यक फाइल्स एवं सॉफ्टवेयर इनस्टॉल हो जाते हैं जिनके बारे में पता लगाना एवं उनको डिलीट करना आसान काम नहीं होता, ऐसे में सबसे अच्छा ऑप्शन हैं की एक बार अपने कंप्यूटर सिस्टम को फॉर्मेट कर लीजिये , ऐसा करने से सारी अनावश्यक फाइल्स एवं सॉफ्टवेयर डिलीट हो जायेंगे और आपका सिस्टम फिर से पहले जैसा तेज काम करेगा बिना हैंग हुए |

कंप्यूटर फॉर्मेट करने से पहले करें ये जरूरी काम

how to format PC and install windowsकंप्यूटर को फॉर्मेट करने से उसमे मौजूद हर तरह का डेटा डिलीट हो जाता हैं ऐसे में जरूरी हैं की आप अपने आवश्यक डेटा का बैकअप बना लें, इसके लिए आप एक्सटर्नल हार्डडिस्क का इस्तेमाल कर सकते हैं, एक्सटर्नल हार्डडिस्क में आप कंप्यूटर में मौजूद सभी आवश्यक डेटा जैसे की फोटो, वीडियो, डॉक्यूमेंट, एवं अन्य जरूरी डेटा को कॉपी करके सेव कर लें, ऐसा करने से आप सभी आवश्यक जानकारियों को डिलीट होने से बचा पाएंगे |

फॉर्मेट कैसे करें 

फॉर्मेट करने के लिए आपके पास बूटेबल सीडी या बूटेबल फ़्लैश ड्राइव होनी चाहिए, बूटेबल फ़्लैश ड्राइव या सीडी इसलिए जरूरी हैं क्यूकि फॉर्मेट करने से कंप्यूटर का सारा डेटा डिलीट हो जाता हैं ऐसे में नया ऑपरेटिंग सिस्टम डालना पड़ता हैं इसलिए बूटेबल सीडी या फ़्लैश ड्राइव में हम ऑपरेटिंग सिस्टम की इमेज फाइल रखते हैं जो की फॉर्मेट के बाद कंप्यूटर में नया ऑपरेटिंग सिस्टम डालने का काम करती हैं |

1.फॉर्मेट करने के लिए सबसे पहले कंप्यूटर को शट डाउन करें |
2.इसके बाद कंप्यूटर को फिर से स्टार्ट करें, जैसे ही कंप्यूटर को बनाने वाली कंपनी का लोगो दिखे वैसे ही फ12 की बटन दबाएं, जिससे बूट मेनू खुलेगा |
3.अगर आपके पास बूटेबल सीडी हैं तो CD वाला ऑप्शन चुनें या अगर आपके पास बूटेबल फ़्लैश ड्राइव हैं तो USB वाला ऑप्शन चुनें |
4.माना की आपके पास बूटेबल फ़्लैश ड्राइव हैं और आपने USB वाला ऑप्शन चुना, अब आगे नया ऑपरेटिंग सिस्टम चुनने का ऑप्शन आएगा |
5.फिर आपको डिस्क पार्टीशन दिखाई देगा, आपको कंप्यूटर की जिस जिस डिस्क को फॉर्मेट करना हैं उसे सेलेक्ट करके डिलीट कर देना हैं ठीक से समझने के लिए नीचे स्क्रीनशॉट में देखिये |
6.इस तरह से कंप्यूटर को फॉर्मेट करने के बाद ऑपरेटिंग सिस्टम इन्स्टॉल होने की प्रोसेस आगे बढ़ेगी और आपको प्रोसेस को आगे बढ़ाते जाना हैं |
7.नया ऑपरेटिंग सिस्टम इन्स्टॉल होने के बाद आप अपने बैकअप बनाये गए डेटा को फिर से कंप्यूटर में सेव कर सकते हैं 

Advertisements