जानिए programming language और type ?

Advertisements

व्हाट इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या होती है , इसके बारे में आज हम जानने वाले हैं।

क्या है programming language ?

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में कंप्यूटर के लिए इंस्ट्रक्शन. प्रोग्रामिंग लैंग्वेज एक फॉर्मल लैंग्वेज होती है, जिसमे सेट ऑफ़ इंस्ट्रक्शन होती है तो किसी टास्क को कम्पलीट करके आउटपुट प्रोवाइड कराती हैं।

डेवेलपर्स प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का यूज़ सॉफ्टवेयर, गेम ,एंड  स्क्रिप्ट डेवेलोप करने के लिए करते हैं।
Computer programming language :

कंप्यूटर हमारी भाषा को समझ नहीं सकता है. कंप्यूटर को सिर्फ बाइनरी लैंग्वेज याने  (0,1) की भाषा ही समझ में आती है।
1. Machine language :
कंप्यूटर को हमारी भाषा समझ नहीं आती उसको सिर्फ मशीन लैंग्वेज समझ में आती है .कंप्यूटर प्रोग्राम्स डिफरेंट लैंग्वेज में लिखा जाता है, जैसे  C, C++,एंड जावा पर  कंप्यूटर इसको डायरेक्टली अंडरस्टैंड नहीं कर सकता.  कंप्यूटर प्रोग्राम को पहले compile किया जाता है. Compile करने के बाद ही कंप्यूटर उसको समझ सकता है।
2. Assembly Language:

Assembly language लो लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है . Assembly language में Commands, का इस्तमाल किया जाता है .जबकि machine language में सिर्फ नंबर्स  (0,1) का इस्तमाल होता है. लेकिन assembly language में  programmer number के बदले नेम (command) यूज़ करते हैं. Assembly language प्रोसेसर यानी CPU के लिए होती है .यानि "
प्रत्येक assembly language  किसी विशिष्ट particular computer  के लिए विशिष्ट होती है” कह सकते हैं.language को symbolic machine कोड भी कहा जाता है ।

Command e.g. : MOV CL, AL ;
3. High Level Language:

इसको  HLL भी कहा जाता है. High level language हमारी human language की तरह होती है जो किसी पर्टिकुलर कंप्यूटर पर डिपेंड नहीं होती है।


जैसे निम्न स्तर की भाषा के साथ तुलना करें (machine, assembly) उच्च स्तरीय भाषा लिखना, पढ़ना,मेन्टेन कराने के लिए इजी होता है

हाई लेवल लैंग्वेज में लिखा हुआ प्रोग्राम कंप्यूटर को अंडरस्टैंड करने के लिए उसको कॉम्पैल्ड करके  मशीन लैंग्वेज में कन्वर्ट किया जाता है।

फर्स्ट हाई लेवल लैंग्वेज 1950 में introduce हुई उसके बाद बहुत सी हाई लेवल लैंग्वेजेज मारकेट में आईं जिसमे C, C++, Java, PHP, Ruby, visual basic और भी।
High Level Programming Languages 
अब इन प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज का इस्तमाल कहां होता है ये हम जानते हैं।
1. Application, Program,और Software Development में:
हम कंप्यूटर में डेली जो भी एप्लीकेशन, प्रोग्राम ,सॉफ्टवेयर यूज़ करते हैं जैसे ब्राउज़र  Google chrome, Mozilla, Ms-word, इन सबको क्रिएट करने के लिए इन प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का इस्तेमाल होता है।

जिसमे निचे दी गयी लैंग्वेजेज मोस्टली इस्तेमाल होती हैं।
C, C++, Java, Visual Basic विसुअल बेसिक, D, और C#
2. Game Development में :
हम अपने कंप्यूटर में गेम्स खेलते हैं उनको बनाने के लिए भी इन्ही प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज का यूज़ होता है।
जिसमें C, C++, Java और C# का यूज़ होता है।
3. Script Development:

स्क्रिप्ट क्या होती है ?

स्क्रिप्ट यानी एक प्रकार का प्रोग्राम ही होता है , जिसको किसी स्पेसिफिक टास्क को कम्पलीट करने के लिए क्रिएट किया जाता है।

हमें अगर एक ही काम बार बार करना पड़ता है तो हम उसके लिए कोड के जरिये स्क्रिप्ट बना सकते हैं, और अपना टाइम सेव कर सकते है।

अगर स्क्रिप्ट डेवेलोप करनी हो तो हम Perl, python, बैच फ़ाइल इन प्रोग्रामिंग का यूज़ कर सकते है।
4. Web designing और  Development में :
इंटरनेट पर हम जो नयी नयी वेबसाइट देखते है वो भी अलग अलग प्रोग्रामिंग, स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज की हेल्प से बनायीं जाती है।

वेब डिजाइनिंग में सबसे बेसिक लैंग्वेज जो है वो है HTML (Hypertext markup Language)(हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज)यूज़ होती है. उसके बाद CSS (Cascading Style sheet)(कैस्केडिंग स्टाइल शीट)।

PHP (Hypertext Preprocessor)(हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज), ASP (Active Server Pages)(एक्टिव सर्वर पेजेस) इनका प्रयोग डायनामिक वेबसाइट को क्रिएट करने के लिए किया जाता है।

वैसे आपको बहुत थोड़ा नॉलेज हो फिर भी आप ब्लॉगर  पर ब्लॉग बना सकते है बड़ी आसानी से फ्री मे।
5. Android App Develop करने के लिए :
एंड्राइड अप्प डेवेलोप करने के लिए “Java साथ में एंड्राइड SDK”यूज़ की जाती है .और साथ में C, C++ का भी इस्तमाल एप्प डेवलपमेंट के लिए किया जाता है ।
एक्स्ट्रा टिप :

अगर आप भी कोई प्रोग्रामिंग लैंग्वेज घर बैठे सीखना चाहते है तो आप w3schools.com, tutorialspoint.com in 2 साइट्स पर जाके सिख सकते हैं . W3schools वर्ल्ड टॉप मोस्ट साइट है जहाँ पर आपको हर प्रोग्रामिंग के टुटोरिअल मिलेंगे।

To tutorialspoint की टॉपमोस्ट प्रोग्रामिंग टुटोरिअल की साइट है , जहां आपको इजी लैंग्वेजेज में टुटोरिअल मिल जाएंगे।

 पर्टिकुलर कंप्यूटर पर डिपेंड नहीं होती हैं।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो शेयर करना ना भूलें

ये भी पढ़े -जानिये कंप्यूटर को कैसे फॉर्मेट करें ?
Advertisements

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें