गूगल रैंक और ट्रैफिक अचानक कम होने पर क्या करें ...

Advertisements
अगर साइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक अच्छा आ रहा हो, और अचानक किसी चेंज के कारण ट्रैफिक बहुत कम हो जाए, ये कोई नहीं चाहता। और ऐसा बहुत लोगो के साथ होता है।
जब भी सर्च इंजन अल्गोरिथम में कोई अपडेट करते है तो ट्रैफिक में बदलाव आता ही है, अगर ट्रैफिक बढ़ रही है तो वो तो अच्छी बात है पर अगर कम हो जाये तो आपको क्या करना है वाही में इस पोस्ट में आपको बताने वाला हूँ।
अभी कुछ टाइम से गूगल में रियल टाइम अल्गोरिथम अपडेट चल रही है , जो किसी भी साइट ओनर के लिए अच्छी न्यूज़ नहीं है। इसमें गूगल अलग अलग टेस्ट करता है जिसके कारण अच्छी साइट की रैंक भी अचानक डाउन हो जाती है। फिर वापस ठीक भी हो जाती है पर आपकी ट्रैफिक में आपको उतर चढ़ाव तो देखने को तो मिलेगा ही।
कैसे पता करें अगर ट्रैफिक कम हो रही है तो उसका कारण क्या है, उसके में स्टेप्स आपको बता रहा हूँ, आप इन सभी स्टेप्स को फॉलो करें और अगर कहीं कुछ गड़बड़ मिले तो उसको तुरंत ठीक करने की कोसिस करें, ताकि आपकी साइट की रैंक फिर से सही हो सके, और आपकी पोस्ट गूगल में टॉप पर आ सके।

स्टेप 1:  साइट स्टेटस चेक करें

सबसे पहले आपको अपनी वेबसाइट में चेक करना है, कहीं किसी कोड की वजह से कोई एरर तो नहीं है, या कहीं कुछ ऐसी सेटिंग गलती से हो गई हो जिसके कारण आपकी रैंक डाउन हुई है।
आपको On Page SEO को भी चेक करना है, जिस पेज पर ज्यादा ट्रैफिक कम हुआ है उसमें आपने Bad Link लिंक तो ऐड नहीं की है।

एचटीटीपी स्टेटस कोड चेक करें

आपको अपनी वेबसाइट का एचटीटीपी स्टेटस चेक करना है, इसमें आपको ये पता चल जाएगा की आपकी वेबसाइट अगर कोई ओपेन करना चा रहा है, तो ओपेन हो रही है, या नहीं। स्टेटस कोड 200 आने का मतलब है आपकी साइट बढ़िया से लोड हो रही है।
इसको चेक करने के लिए आप एचटीटीपी स्टेटस कोड चेकर का यूज़ करें। सिंपल आपको इसमें अपनी वेबसाइट और पेज का ( URL ) यूआरएल डालकर चेक करना है।

( Bots Crawl ) बोट्स क्रॉल कर पा रहें की नहीं साइट को

सर्च इंजन बॉट्स साइट को क्रॉल करते हैं, उसके बाद ही साइट को सर्च में दिखाया जाता है, ऐसे में ये भी हो सकता है गलती से रोबोट्स.टेक्स्ट से आपने बोट्स को ब्लॉक कर दिया हो और सर्च इंजन आपकी साइट को क्रॉल ही नहीं कर पा रहे हो।
रोबोट.टेक्स्ट में तो कोई गड़बड़ नहीं है, वो आप गूगल के फ्री रोबोट्स टेस्टिंग टूल में देख सकते है।

स्टेप 2:  चेक गूगल अल्गोरिथम अपडेट्स

ट्रैफिक अचानक कम होने का ये भी एक कारण हो सकता है की गूगल में कोई बड़ा अल्गोरिथम अपडेट किया है, उसकी जानकारी के लिए ऑनलाइन कुछ पॉपुलर ब्लॉग हैं वह देख सकते हैं।
सबसे बेस्ट तरीका किसी भी अपडेट को पता करने का ट्वीटर है, क्यूँ की यहाँ आपको सभी टॉप SEO मिल जाएगें |
अब ट्विटर पर किसी भी अपडेट को देखने के लिए आप सिंपल सर्च कर सकते हैं, गूगल अल्गोरिथम अपडेट जैसे आप स्क्रीनशॉट में देख सकते है।

स्टेप 3:  गूगल सर्च कंसोल चेक करें

गूगल सर्च कंसोल में आपने अपनी साइट को तो ऐड किया ही होग, अगर नहीं किया है तो अभी ऐड करें वो बहुत जरुरी है।
जब भी कोई अपडेट आता है, और उसकी वजह से साइट पर कोई भी दिक्कत होती है, तो वह हमें एरर मैसेज मिल जाता है, और हम उनके बताए तरीके को फॉलो करके उसको सही कर सकते हैं।
आप सर्च कंसोल में चेक करें कही कोई एरर तो नहीं आ रही है, आपकी साइट को क्रॉल करने में, और ये भी चेक करें आपकी साइट की कितनी पोस्ट इंडेक्स हैं।
गूगल सर्च कंसोल इम्पोर्टेन्ट सेटिंग्स करना भी जरुरी है, अगर आपने अभी तक नहीं की तो वो भी जरुर करें।

स्टेप 4:  गूगल एनालिटिक्स में चेक करें

वेबसाइट की ट्रैफिक कम होने का कारण आप गूगल एनालिटिक्स से भी लगा सकते है, आप साइट का गूगल एनालिटिक्स ओपन करके उसका ट्रैफिक ग्राफ देखें, इससे आपको बहुत सी जानकारी मिल जाएगी।
एक्साम्प्ल जैसे : गूगल का एक अपडेट आया था जिसमें मोबाइल फ्रेंडली साईट को टॉप पर दिखाते हैं, तो ऐसे में अगर आप गूगल एनालिटिक्स में देखते तो आपकी कंप्यूटर की ट्रैफिक तो सेम रहती पर अगर आपकी साइट मोबाइल फ्रेंडली नै होती तो आपकी मोबाइल की ट्रैफिक कम होती है।
इस तरह की बहुत सी चीजों को देख कर भी आप गूगल एनालिटिक्स से पता लगा सकते है, आखिर ट्रैफिक कम होने का कारण क्या है।
अगर आपने गूगल एनालिटिक्स ऐड नहीं किया है तो अभी करें, गूगल एनालिटिक्स कैसे ऐड करे साइट में उसकी जानकारी यहाँ दी हुई है।

स्टेप 5:  चेक साइट स्पीड

वेबसाइट की स्पीड एक रैंकिंग फैक्टर है गूगल में, और अगर आपकी साइट की स्पीड स्लो है तो ये भी एक मेंन कारण हो सकता है, आपकी ट्रैफिक का अचानक कम होने का।
वेबसाइट की स्पीड कैसे इम्प्रूव करे उसकी टिप्स मैनें शेयर की है, उनको फॉलो करें उसके साथ अगर कुछ भी ऐसी चीजें हो जिसके कारण आपकी साइट की स्पीड कम हो रही है तो उनको भी ठीक करें।
वेबसाइट की स्पीड चेक करने के लिए Google’s PageSpeed Insights का यूज़ कर सकते हैं, इसमें कहां क्या गड़बड़ है वो भी पता चल जाती है।

स्टेप 6: चेक मोबाइल

गूगल ने ये साफ़ कर दिया है, की मोबाइल के लिए पहले मोबाइल फ्रेंडली साईट ही दिखाई जाएगी और उनको को जादा वैल्यू दी जाएगी, तो हमारे लिए ये बहुत जरुरी है की साइट मोबाइल में अच्छी तरह से ओपन हो।
ब्लॉग मोबाइल में अच्छी तरह से ओपन हो उसके लिए आप एक बड़ी मोबाइल फ्रेंडली टेम्पलेट यूज़ करें।
वेबसाइट मोबाइल फ्रेंडली है या नहीं वो आप गूगल के मोबाइल फ्रेंडली टेस्ट टूल की मदद से पता कर सकते हैं।

स्टेप 7: बैकलिंक चेक करें

बैकलिंक वो लिंक होती है, जो किसी दूसरी साइट पर हमारी किसी पेज की लिंक ऐड की गई हो। बढ़िया हाई क्व़ाक्लिटी बैकलिंक से सर्च इंजन में साइट की वैल्यू और ट्रस्ट बढ़ता है।
पर इसका उलटा भी है, मतलब अगर बैकलिंक लो क्वालिटी साइट से मिले, या किसी स्पैम साइट से तो इससे हमारी साइट को नुकसान भी हो सकता है।

बैकलिंक क्या है और इससे क्या होता है, उसकी जानकारी आपको मेरे पुराने आर्टिकल में मिल जाएगी, इसके बाद भी अगर आपको कोई डाउट हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं।

कन्क्लूसन

अब आप कुछ हद तक तो समझ ही गए होंगे, आपकी साइट की ट्रैफिक अचानक कम होने का क्या कारण है। आप इन स्टेप्स को फॉलो करके जो भी प्रॉब्लम है उनको सोल्व कर सकते हैं।
यहाँ आप एक बात धयान रखें आप कुछ भी चेंज करेंगे साइट में उसका असर आपको तुरंत देखने को नहीं मिलेगा सर्च इंजन में कि आपने आज कुछ अपडेट किया और कल से आपकी साइट पर ज्यादा ट्रैफिक आने लगे इसके साथ साथ गूगल रैंक के टॉप 10 रैंकिंग फैक्टर भी आपको पता होना चाहिए जो 2017 में बहुत इम्पोर्टेन्ट है, वेबसाइट की बढ़िया रैंकिंग के लिये।
होप आपको ये जानकारी काम आएगी, और अगर आपकी ट्रैफिक अचानक डाउन हुई है, तो उसको सही करने में भी हेल्प मिलेगी।
इनके अलावा भी अगर कोई कारण हो सकता है, अचानक ट्रैफिक डाउन होने का तो आप कमेंट में जरुर शेयर करें। 

ये भी पढ़ें - गूगल ऐडसेंस ऐड प्लेसमेंट पॉलिसीस ( ऐड कहां और कैसे लगाएं )
Advertisements

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें