Thursday, August 9, 2018

फिल्मी पर्दे पर अब दिखेगी ‘दादा’ की दादागिरी, एकता करेंगी प्रोड्यूस

pjimage (24)

नई दिल्ली. बॉलीवुड की स्क्रीन पर सचिन तेंदुलकर की बायोपिक दिखी. महेन्द्र सिंह धोनी पर बनी धमाकेदार फिल्म दिखी. अजहर पर बनी फिल्म भी खूब चली. कपिलदेव और झूलन गोस्वामी की जीवनी को भी रूपहले परदे पर उतारने की तैयारी जोरों शोरों पर है. और, अब इस क्लब में एक नया नाम प्रिंस ऑफ कोलकाता यानी कि सौरव गांगुली का नाम भी जुड़ गया है. बताया जा रहा है कि सौरव गांगुली की लिखी किताब ‘ए सेंचुरी इज नॉट एनफ’ को एकता कपूर की बालाजी टेलीफिल्म्स फिल्मी पर्दे पर उतारने की तैयारी कर रहा है.

pjimage (25)

डायरेक्टर पर नहीं बन रही बात

सूत्रों के मुताबिक गांगुली ने खुद इस बात की पुष्टि की है कि उनकी बायोपिक लेकर बालाजी टेलीफिल्म्स से उनकी बात चल रही है. बताया जा रहा है कि फिल्म के निर्देशक को लेकर फिलहाल दोनों पक्षों में मतभेद है. एकता कपूर मुंबई के किसी डायरेक्टर से फिल्म को निर्देशित कराना चाहती हैं जबकि गांगुली कोलकाता के निर्देशक को फिल्म में चाहते हैं.

‘दादा’ सौरव गांगुली

सौरव गांगुली को भारतीय क्रिकेट में दादा के नाम से जाना जाता है. इसकी वजह है उनका वो तरीका जिसने भारतीय क्रिकेटरों में लड़ने का जज्बा भरा. विदेशी सरजमीं पर जाकर जीतना सिखाया. गांगुली से पहले के दौर में जहां विदेशी मैदानों पर आसानी से घूटने टेक देती थी उनके दौर में वही खिलाड़ी जीत के लिए पूरा जोर लगा देते थे.

बढ़ रहा है खिलाड़ियों पर फिल्मों का दौर

रूपहले पर्दे पर खिलाड़ियों पर बनी फिल्म जबरदस्त हिट साबित हुई हैं. फिर चाहे वो सचिन हों या धोनी या फिर अजहर पर बनीं बायोपिक. तीनों ने भरपूर कमाई भी की थी. यही नहीं इससे पहले मैरीकॉम और मिल्खा सिंह पर पर बनी फिल्म ने भी जमकर सुर्खियां बटोरी थी. यही वजह है कि खिलाड़ियों को लेकर बनने वाली फिल्मों का क्रेज धीरे धीरे बढ़ रहा है. झूलन गोस्वामी और कपिलदेव की फिल्म पाइपलाइन में है जब सौरव गांगुली की फिल्म को लेकर सुगबुगाहट तेज हो गई है.

No comments:

Post a Comment