Sunday, August 12, 2018

Jio GigaFiber इफेक्ट: ACT Fibernet दे रहा है 2,999 रुपए में 1 जीबीपीएस स्पीड

Jio GigaFiber इफेक्ट: ACT Fibernet दे रहा है 2,999 रुपए में 1 जीबीपीएस स्पीड

जियो के गीगाफाइबर लॉन्च का असर है कि इसके कई प्रतिद्वंद्वियों ने ग्राहकों को बनाए रखने के लिए मिलती-जुलती सेवा लॉन्च कर रहे हैं। l ACT फाइबरनेट ने हाल ही में चेन्नई में 1 जीबीपीएस स्पीड का गीगाबाइट ब्रॉडबैंट सर्विस शुरू किया था। कंपनी ने पिछले साल यही प्लान बेंगलुरु और हैदराबाद के लिए लेकर आई थी। 

ACT का 1 जीबीपीएस ब्रॉडबैंड प्लान

2,999 रुपए की कीमत वाले ACT गीगा प्लान में कंपनी अपने सब्सक्राइबर्स को 1 जीबीपीएस की स्पीड देगी। इसमें अधिकतम एफयूपी लिमिट 3,000 जीबी होगी। एफयूपी यानी फेयर यूजर पॉलिसी। इसके के मुताबिक सभी कंपनियों के यूजर हर दिन एक लिमिट तक डाटा इस्तेमाल करते हैं। मान लिया रोज की लिमिट 1 जीबी है। तो एक दिन में जब ये लिमिट खत्म हो जाती है यानी यूजर 1 जीबी डाटा का इस्तेमाल कर लेता है तो उसको मिलने वाली डेटा की स्पीड कम हो जाती है। 6 महीने के सब्सक्रिप्शन पर प्लान में एक महीना फ्री और यदि 12 महीने के लिया तो 2 महीना फ्री मिलेगा। मासिक प्लान की कीमत 2,999 रुपए है, 6 महीने के प्लान की कीमत 17,994 रुपए और सलाना यानी 12 महीने के लिए प्लान की कीमत 35,988 रुपए है।

मौजूदा ग्राहक अपने प्लान को गीगा प्लान में बदल सकते हैं। उन्हें बस 2,500 रुपए चुकाने होंगे। इसमें आम इंस्टॉलेशन शुल्क भी शामिल होगा। लेकिन यदि आपके पास ये प्लान नहीं है और आप नए यूजर हैं तो आपको 5,000 का इंस्टॉलेशन शुल्क देना होगा।

एसीटी एसएमई में बढ़ते रहने वाले प्लान भी हैं। इनमें हर अतिरिक्त 1,000 जीबीपीएस खर्च होने पर आपको 1,000 रुपए अधिक लगेंगे। एफयूपी लिमिट के आगे यदि स्पीड रही तो हर 1,000 जीबी पर 1 एमबीपीएस खर्च होगा। इसके अलावा 8,999 रुपए का एक और प्लान है। इसमें यूजर को 1 जीबीपीएस की स्पीड और एफयूपी के पहले 10,000 जीबी डेटा मिलेगा। और एफयूपी लिमिट खत्म होने पर 10 एमबीपीएस मिलेगा।

ACT फाइबरनेट और अमेज़न पे

अमेजन पे के जरिए एसीटी साइट, पोर्टल या ऐप से एसीटी बिल या नए कनेक्शन का पेमेंट करने की सुविधा होने से सब्सक्राइबर्स को राहत होगी। कंपनी अपने सब्सकाइबर्स को बिना किसी बाधा के बिल पेमेंट की सुविधा और एक से एक बढ़िया ऑफर ला रही है।

भारत के सबसे बड़े फाइबर-ऑप्टिक्स वार्यड ब्रॉडबैंड आईएसपी, एट्रिया कन्वर्जेंस टेक्नोलॉजी लिमिटेड (एसीटी) ने अमेज़न पे के साथ भागीदारी का ऐलान किया है। अमेज़न के साथ मिलकर चलने से सब्सक्राइबर्स के लिए फटाफट और बिना किसी गड़बड़ी के बिल पेमेंट कर पाना संभव होगा।

ई-वॉलेट के फायदे

ई-वॉलेट ऑनलाइन पेमेंट करने का सुविधाजनक और सुरक्षित साधन हैं, और इसीलिए हर जगह लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। एसीटी फाइबरनेट का मकसद अपने सब्सक्राइबर को अच्छी सुविधा देना है। अमेज़न पे की मदद से लेन-देन की प्रक्रिया तेज होगी और सिंगल टैप बिल पेमेंट में मदद मिलेगी। अमेज़न पे की सुविधा पूरे भारत के 14 शहरों में करीब 13 लाख एसीटी फाइबरनेट सब्सक्राइबर्स को मिलेगी।

एसीटी में मार्केटिंग के हेड रवि कार्तिक के मुताबिक डिजिटल वॉलेट से पेमेंट कर सकने की सुविधा ने पैसे के लेन-देन को पूरी तरह से बदल दिया है। अब ये सुरक्षित, तेज और बहुत ही सुविधाजनक हो गया है। उन्होंने अमेज़न के जरिए अपने उपभोक्ताओं तक ईवॉलेट सर्विस पहुंचने पर खुशी जाहिर की। उनका मानना है कि पैसे के भुगतान की आसान व्यवस्था होने से यूजर्स को बेहतर अनुभव मिलेगा और उनका जीवन बेहतर होगा। A

तो यदि आप एसीटी उपभोक्ता हैं, और अमेज़न पे का इस्तेमाल करते हैं तो इस अगस्त आपके लिए अनोखे कैशबैक ऑफर तैयार हैं।

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment