Friday, September 14, 2018

इस गणेश चतुर्थी अपनी राशि के अनुसार चढ़ाएँ श्री गणेश को मोदक, होगी सर्वोत्तम फल की प्राप्ति

गणेशोत्सव का पर्व पूरे देश में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता हैं। भगवान गणेश को सिद्धि विनायक भी कहा जाता है। ये प्रथम पूज्य देवता हैं और इन्हें बुद्धि, समृद्धि व सौभाग्य की प्राप्ति के लिए पूजा जाता है। गणेश चतुर्थी इस बार 13 सितंबर को है और यह दस दिवसीय उत्सव भाद्रपद मास की चतुर्थी से चतुर्दशी तक जारी रहेगा।गणेशपूजा के दौरान गणपति जी के भक्त उन्हें नए-नए पकवान और मिठाईयों का भोग लगाते हैं इसके साथ ही मिठाई में गणपति जी को मोदक का भोग जरूर लगाया जाता है|

मोदक का अर्थ होता हैं मोद (आनन्द) प्रदान करने वाला। साथ ही यह सात्विकता और शुद्धता का भी परिचायक है। यह भी बताया जाता है कि मोदक ज्ञान का प्रतीक होता हैं, लिहाजा भगवान गणेश इसे अधिक पसंद करते हैं। पद्मपुराण के अनुसार, माता पार्वती के मुख से अमृत से बने मोदक का बखान सुन गजानन इसे खाने की इच्छा से खुद को रोक नहीं पाते हैं। तभी से इन्हें ये मोदक इतने पसंद हैं कि देखते ही खुश हो जाते हैं|

वही शास्त्रों के अनुसार श्री गणेश को मोदक चढाते समय मोदक की संख्याओं का भी अत्यधिक महत्व होता है |कहा जाता है की गणेश चतुर्थी के दिन श्री गणेश को 21 मोदकों का भोग लगाना शुभ माना जाता है और इन मोदकों को चढाने के लिए श्री गणेश के दस नामों के उच्चारण के साथ दो दो मोदक चढ़ाना है और अंतिम मोदक प्रसाद के रूप में ग्रहण करें |ज्योतिष के अनुसार यदि भक्त अपने राशि अनुसार श्री गणेश को मोदक का भोग लगायें तो उन्हें मनवांछित फल की प्राप्ति होती है |तो आइये हम आपको आपके राशि के अनुसार मोदकों की संख्या बताते है..

मेष
इस राशि के लोगों को वक्रतुंड की पूजा करनी चाहिए। “ॐ वक्रतुण्डाय हुं” मंत्र का जाप करें और 28 मोदक का भोग लगाना चाहिए

वृष
इस राशि के लोगों को विनायक स्वरूप की पूजा करनी चाहिए। “ॐ ह्रीं ग्रीं ह्रीं” का जाप करें और श्री गणेश को 23 मोदक का भोग लगाएँ।

मिथुन
इस राशि के लोगों को लक्ष्मी-गणेश की आराधना करनी चाहिए। “ॐ श्रीं गं सौभाग्य गणपतेय वरवरदं सर्वजनं में वशमानायं स्वाहा” मंत्र का जाप करें और 31 मोदक का भोग लगाएँ

कर्क
इस राशि के लोगों को एकदंत की अर्चना करनी चाहिए। “ॐ एकदंताय हुं” का जाप करें और 21 मोदक का भोग लगाएँ

सिंह
इस राशि के लोगों को लंबोदर गणेश का पूजन करना चाहिए। “ॐ लंबोदराय नम:” मंत्र का जाप करें और श्री गणेश को 108 लड्डुओं का भोग लगायें

कन्या
इस राशि के लोगों को गजानन का पूजन शुभ रहेगा। “ॐ गं गणपतयै नमः” मंत्र का जाप करें और श्री गणेश को 31 मोदक का भोग लगाएँ इससे आपकी हर मनोकामना जल्द ही पूर्ण हो जाएगी |

तुला
इस राशि के लोगों को शक्तिविनायक का अर्चन करना चाहिए। “ॐ ह्रीं, ग्रीं, ह्रीं” मंत्र का जाप करें और इस गणेश चतुर्थी 23 मोदक का भोग लगायें |

वृश्चिक
इस राशि के लोगों को वक्रतुंड की साधना करना चाहिए। “ॐ वक्रतुण्डाय हुं” मंत्र का जाप करना चाहिए और इस गणेश चतुर्थी श्री गणेश को 56 लड्डुओं का भोग लगाएँ|

धनु
इस राशि के लोगों को हरिद्रारूप की पूजा करनी चाहिए। “हुं गं ग्लौं हरिद्रागणपतयै वरवरद दुष्ट जनहृदयं स्तम्भय स्तम्भय स्वाहा” मंत्र का जाप करें और 24 लड्डुओं का श्री गणेश को भोग लगाएँ|

मकर
इस राशि के लोगों के लिए लम्बोदर रूप शुभ हैं। “ॐ लम्बोदराय नमः” मंत्र का जाप करें और श्री गणेश को 36 लड्डुओं का भोग लगायें |

कुंभ
कुंभ राशि के लिए सर्वेश्वर रूप कल्याणकारी हैं। “ॐ सर्वेश्वराय नमः” मंत्र का जाप करें और गणेश चतुर्थी पर श्री गणेश को 51 मोदक का भोग लगाएँ|

मीन
इस राशि के लिए सिद्धि विनायक पूजनीय हैं। “ॐ सिद्धि विनायकाय नमः” मंत्र का जाप करें और श्री गणेश को 108 मोदकों का भोग लगायें |

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment