Saturday, September 15, 2018

आपने ऐसे किसी भी मैसेज का रिप्लाई किया तो आपका बैंक एकाउंट हो जाएगा खाली…

 

पिछले कुछ वर्षों से ऑनलाइन ठगी, धोखाधड़ी और खाते से पैसे साफ होने की घटनाएं तेजी से बढ़ती जा रही हैं। इससे बचने के लिए एसबीआई अपने ग्राहकों को सावधान कर रहा है। बैंक का कहना है कि, मोबाइल पर एक ऐसा मैसेज आ रहा है जो कि आप को गुमराह कर आपके बैंक अकाउंट की डिटेल्स मांगता है।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नाम पर कैसे हो रही है ठगी..

वहीं जैसे-जैसे इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख नजदीक आ रही है वैसे-वैसे ही जालसाज भी ठगी को लेकर सक्रिय हो गए हैं। खाताधारकों से इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नाम पर मैसेज किया जा रहा है। इसमें कर दाताओं से रिफंड अमाउंट पाने के लिए ग्राहक से नाम व पते के साथ ही बैंक एकाउंट नंबर, पासवर्ड व एटीएम का पिन जैसी तमाम जानकारी मांगी जाती हैं। अगर ग्राहक इसमें से कोई भी डीटेल देते हैं तो उनके खाते से ठगी हो सकती है। इसलिए ऐसे में सावधान रहने की जरूरत है। एसबीआई के अधिकारी एके गुप्ता का कहना है कि, मोबाइल के जरिए या मैसेज के जरिए कभी भी बैंक या इनकम टैक्स डिपार्टमेंट आपसे जानकारी नहीं मांगता है।

ंःHistory in Today: आज है भारत के सबसे बड़े इंजीनियर का जन्मदिन,.. जिसकी शुरुआती पढ़ाई कला से हुई…..

ऐसा करने वालों से सावधान रहने की जरूरत है। अगर आपके पास इनकम टैक्स रिफंड के नाम से SMS आए तो अपनी जानकारी शेयर ना करें। इस तरह के SMS को अनदेखा करें या फिर उन्हें ब्लॉक कर दें। उन्होंने बताया कि, एसबीआई अपने ग्राहकों को सोशल मीडिया के माध्यम से सावधान कर रहा है। साथ ही बैंक में आने वाले सभी ग्राहकों को इसके लिए जागरूक भी कर रहा है। आजकल ऑनलाइन जालसाजी के मामले आए दिन सामने आ रहे हैं। जरा सी चूक आपका बैंक एकाउंट खाली कर सकता है। हैकर्स अब बैंक एकाउंट से पैसों की चोरी का ये नया तरीका अपना रहे हैं। जिसमें आपको पता भी नहीं लगता और आपका एकाउंट खाली हो जाता है।

कैसे चुराया जाता है आपका पर्सनल डाटा..

एसबीआई अपने ग्राहकों को सतर्क कर रहा है कि, इंटरनेट चोरी से अब खाताधारक की सारी डिटेल चोरी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इसमें नेट बैंकिंग पासवर्ड, बैंक एकाउंट संख्या, क्रेडिट कार्ड संख्या, व्यक्तिगत पहचान का ब्योरा आदि चुराया जाता है।
आपको बता दें कि, इसमें आपको ईमेल में  दिए गए हाइपरलिंक पर क्लिक करने के लिए कहा जाएगा। और जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे तो एक नकली वेबसाइट खुलेगी। लेकिन आपको यह बिल्कुल भी पता नहीं लगेगा कि यह नकली है।

ंःराशिफलः आज इन राशियों पर होगी धनवर्षा, मिलेगी सुख समृद्धि……..

इसमें जैसे ही आप अपनी कोई भी डीटेल भरेंगे और सब्मिट करेंगे तो आपके सामने Error पेज आ जाएगा। ऐसे में खाताधारक को लगता है कि यह सिर्फ Error है, जबकि उस समय तक आपकी सारी डीटेल हैकर्स के पास पहुंच चुकी होती है।

SBI अधिकारी ने बताया HTTPS:// में क्या है S का अर्थ..

एसबीआई अधिकारी एके गुप्ता का कहना है कि, ऐसे मामालों से आप सावधान रहें। आपकी ईमेल या POP-UP विंडो पर आने वाले पेज को लाइक न करें। या फिर अगर आपसे  बैंक एकाउंट, एटीएम या आधार के बारे में कोई भी पर्सनल जानकारी मांगी जाए तो बिल्कुल न दें। साथ ही कोई भी ओटीपी शेयर न करें।
उन्होंने यह भी बताया कि, अगर आप कभी भी किसी साइट पर Login करें तो यह ध्यान जरूर रखें कि, URL ‘https://’ से शुरू हो। इसमें S का मतलब सुरक्षित से है। अगर किसी साइट के Login में यह एस शब्द न दिखाई दे तो उसे न खोलें। साथ ही फोन पर किसी से भी अपनी जानकारी शेयर न करें।

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment