Friday, September 14, 2018

Manmarziyaan Review : आज के जमाने की लवस्टोरी दिखाती है ‘मनमर्जियां’

फिल्म: मनमर्जियां

डायरेक्टर: अनुराग कश्यप

स्टार कास्ट: तापसी पन्नू, अभिषेक बच्चन, विक्की कौशल, अशनूर कौर

अवधि: 2 घंटा 35 मिनट

सर्टिफिकेट: U/A

रेटिंग: 3 स्टार

बहुत सारी फिल्में हैं जो प्यार पर आधारित हैं। जिनमें कभी प्यार करने वाले अलग होकर फिर एक हो जाते हैं तो कई फिल्मों में हमेशा के लिए अलग हो जाते हैं। ऐसी ही एक फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप की ‘मनमर्जियां’ है। निर्माता आनंद एल राय के साथ अनुराग कश्यप की ये फिल्म शायद दर्शकों की उम्मीद से बहुत अलग हो सकती है। अनुराग कश्यप की फिल्में हमेशा आपसी रंजिश, खून-खराबा, गोलियों की आवाज पर होती है। लेकिन अनुराग कश्यप ने ‘मनमर्जियां’ में प्यार और ‘फ्यार’ (सेक्स) के अंतर को समझाने की कोशिश की है। यह फिल्म आज की युवा पीढ़ी के रिश्तों के बीच की परेशानियों को काफी अच्छे से बयां करती है। इसके अलावा ये फिल्म हारे हुए पति की कहानी को भी बयां करती है।

इस फिल्म में रूमी (तापसी पन्नू) और विक्की (विक्की कौशल) का प्यार फेसबुक और टिंडर से शुरू होता है। जिसके बाद ये दोनों चाहते हैं कि इनकी शादी हो जाए। लेकिन लापरवाह विक्की जिंदगी को हल्के में लेने वाला होता है। वह रूमी के घरवालों से शादी की बात करने के लिए बहाने मारता रहता है। जिसके बाद फिल्म में एनआरआई रॉबी (अभिषेक बच्चन) की एंट्री होती है। रॉबी हॉकी खिलाड़ी रूमी को देखते ही मन बना लेता है कि वह रूमी से ही शादी करेगा। इस दौरान कहानी में बहुत सारे उतार-चढ़ाव देखने को मिलते हैं। क्योंकि रूमी की शादी रॉबी से हो जाती है। तभी फिल्म में कई नए ट्वीस्ट आते हैं। ‘मनमर्जियां’ की कहानी को कनिका ढिल्लन ने युवा पीढ़ी के प्यार को ध्यान में देखकर लिखा है। फिल्म के फर्स्ट पार्ट में कहानी काफी हंसाती भी है। कुछ ऐसे कॉमेडी सीन भी हैं जो आपको बेहद हंसाती है।

बता दें कि ‘मनमर्जियां’ के दूसरे पार्ट में कहानी काफी जगह भटकने लगती है। फिल्म के सहायक कलाकारों ने भी बीच-बीच में हंसाने की कोशिश की लेकिन अंत तक फिल्म दर्शकों को असमंजस मे डालना शुरू कर देती है। फिल्म के आखिरी पार्ट को बहुत ज्यादा खींचा गया है। ‘मनमर्जियां’ के किरदारों की बात का जाए तो विक्की कौशल ने यह साबित कर दिया कि वह हर किरदार को पूरे दिल से और ईमानदारी से निभाते हैं। वहीं तापसी की बात करें तो इस फिल्म में वह काफी अलग लग रही हैं। उन्होंने काफी अच्छा काम किया है। साथ ही अभिषेक बच्चन की बात करें तो वो फिल्म में ‘राम जी’ वाले किरदार में दिखाई दिए हैं। अभिषेक से इस फिल्म को लेकर कई लोगों को बहुत उम्मीदें हैं।

फिल्म में पंजाब के अमृतसर-अंबाला को काफी अच्छे से दिखाया गया है। इसके जरिए कई कमजोर कड़ियों को भी काफी बेहतर किया गया है। वहीं ‘मनमर्जियां’ के गाने भी लोगों को खूब पसंद आए हैं। इसके साथ ही बैकग्राउंड स्कोर ने भी फिल्म को बांधकर रखा है। ‘मनमर्जियां’ के गानों के साथ आप फिल्म देखेंगे तो काफी मजा आएगा। फिल्म युवा पीढ़ी के प्यार को काफी अच्छे से दिखाती है।

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment