Sunday, October 14, 2018

जो कहते है मोदी के रहते देश मे कुछ भी बदलाव नही आया, वो इसे जरूर पढ़ ले

नरेंद्र मोदी जिन्हें पूरी दुनिया में अपने कामकाज और अच्छे रवैया के लिए जाना जाता है वह भारत के प्रधानमंत्री हैं और उन्हें लगभग 5 साल का समय होने जा रहा है लेकिन भारत में अभी भी बहुत से लोग ऐसे हैं जो कहते हैं कि नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में भारत में कुछ ज्यादा बदलाव नहीं आया और नरेंद्र मोदी ने कुछ कामकाज नहीं किया लेकिन हर सरकार के कामकाज का दो पहलू होता है.एक सकारत्मक और दूसरा नकारत्मक.आज हम सरकार के सकारत्मक पहलू को बताने जा रहे है.

स्वच्छ भारत…
स्वच्छ भारत यह एक अभियान नहीं बल्कि अब एक आंदोलन बन गया है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बदौलत ही संभव हो पाया है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी नींव रखी और देश को स्वच्छ बनाने में अपना सहयोग दिया पहले हमारे देश में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ करते थे.

लेकिन जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत की शुरुआत की और हाथ में झाड़ू थाम कर खुद यह दिखाया कि कोई काम छोटा या बड़ा नहीं होता और जब देश का प्रधानमंत्री झाड़ू लगा सकता है और साफ-सफाई कर सकता है तो आम नागरिक क्यों नहीं सिर्फ प्रधान मोदी ने झाड़ू ही नहीं लगाई बल्कि हर कॉलोनी में एक स्वच्छ भारत की कचरी उठाने वाली गाड़ी भी चला दी जो कि अब आपके घरों में भी दिखाई देती होगी यह गाड़ी हर सुबह आपकी कॉलोनी में आकर कचरा उठ जाती है और इससे आप भी बली बातें वंचित होंगे।

विदेशो में देश का बड़ा सम्मान…
पहले हमारे देश को एक पिछड़ा हुआ देश कहा जाता था और हमारे देश को बहुत कम देश ही जाना करते थे लेकिन जब से भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बने सभी देशों ने भारत के बारे में जाना और भारत को एक बड़ा देश के दर्जे में देखा आज हमारा देश भारत सुपर पावर बनने की बातें करता है और बेटों के लिए संघर्ष भी करता है लेकिन पहले ऐसा कुछ नहीं हुआ करता था.

यह सब मोदी के कार्यकाल में ही हुआ है आज भारत को हर देश हल्के में नहीं लेता बल्कि भारत को एक बहुत बड़ा विशाल देश कहा जाता है यही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जलवा है।

करप्शन में आई कमी ?
4 साल पहले जब देश में मोदी सरकार नहीं बनी थी तो देश में एक ऐसा माहौल था कि हर तरफ करप्शन,सरकार पर भी कई ऐसे आरोप लगे लेकिन मोदी सरकार आने के बाद सरकार पर आरोप लग रहे है लेकिन अभी तक कोई ऐसा सबूत विपक्ष पेश नही कर पाया है जो कोर्ट में सरकार को कठघरे में कर सके.नोट बंदी जैसे फैसले लेकर मोदी सरकार ने साफ़ कर दिया उसकी मंशा करप्शन कम करने पर है.

विदेश नीति में बदलाव
पहले भारत को एक सॉफ्ट कंट्री माना जाता था कि अगर कोई भी देश भारत की सीमा के अंदर घुस कर कुछ भी कर दे तो भारत दूसरे देशों से बदला नही ले सकता क्योंकि भारत मे राजनीति होती है यहां तक कि भारत के सैनिकों के भारत की सीमा के अंदर तक घुसकर सर तक काट किये जाते थे जिसके बाद भी बदला नही लिया जाता था.

जब से मोदी सत्ता में आये तब से भारतीय सेना ने अपना पराक्रम दिखाया। दूसरे देशों की सीमा में जाकर सर्जिकल स्ट्राइक की चाहे वो पाकिस्तान हो या फिर म्यांमार भारतीय सेना ने हर कही अपने दुश्मनो को ढेर किया.

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment