Friday, October 12, 2018

#MeToo मामलों की जांच के लिए सरकार ने लिया फैसला, बनाई जाएगी 4 सदस्यीय कमिटी

दिल्‍ली : सरकार ने #MeToo अभियान के तहत सामने आ रहे मामलों की जांच का फैसला लिया है। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी है। मेनका गांधी ने  कहा कि इसकी जांच के लिए एक कमिटी का गठन किया जाएगा जिसका नेतृत्‍व रिटायर्ड जज करेंगे।  उन्‍होंने यह भी कहा कि तमाम आ रहे मामलों पर वह भरोसा करती हैं।

उन्होंने कहा, ‘#MeTooअभियान के तहत आने वाले सभी मामलों की जांच के लिए मैंने एक कमिटी बनाने का प्रस्ताव दिया है, जिसमें सीनियर न्यायिक अधिकारी और कानून के जानकार शामिल होंगे।’

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यौन शोषण की शिकायतों से निपटने के सभी तरीकों और इससे जुड़े कानूनी और संस्थागत फ्रेमवर्क तैयार करने में यह कमिटी मदद करेगी। बता दें कि इन दिनों सोशल मीडिया पर बहुत सी महिलाएं इस अभियान के तहत अपने साथ हुए दुर्व्‍यवहार को लिख रही हैं।

याद दिला दें कि कुछ दिनों पहले मेनका गांधी ने कहा था कि किसी के भी खिलाफ लगे यौन शोषण के आरोपों को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। यह बात उन्होंने केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर लगे आरोपों पर उनसे किए गए सवाल  के दौरान कहा था।

मंगलवार को मेनका गांधी ने कहा था कि जब महिलाएं इस पर मुखरता से बोलना शुरू कर दी हैं तो इन आरोपों को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। बीजेपी नेता और राज्य सभा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने भी इस अभियान के प्रति समर्थन जाहिर किया था। एमजे अकबर को लेकर पूछे सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘उन पर लगे आरोप किसी एक महिला ने नहीं बल्कि कई महिलाओं ने लगाए हैं। मैं पहले ही कह चुका हूं कि मैं #MeToo अभियान का समर्थन करता हूं। मुझे नहीं लगता कि यदि महिलाएं लंबे समय बाद सामने आ रही हैं तो इसमें कोई बुराई है। पीएम मोदी को भी इस मुद्दे पर अपना रूख स्पष्ट करना चाहिए।’

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment