Friday, October 12, 2018

Vodafone ‘Sakhi’ महिलाओं को करेगी सशक्तः आपातकाल में सुरक्षा के लिए लाई तीन फीचर्स

भारत के टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने नई वोडाफ़ोन ‘सखि’ सर्विस लॉन्च की है। ये खासतौर से महिलाओं के लिए तैयार की गई मोबाइल आधारित सुरक्षा सेवा है। इसमें कई खास इमरजेंसी अलर्ट, इमरजेंसी बैलेंस और प्राइवेट नंबर रीचार्ज जैसी सर्विसेज मिलेंगी। यदि आप महिला हैं, तो स्मार्टफोन और फीचर फोन दोनों पर इस सेवा का लाभ उठा सकती हैं। आपके पास इसके लिए बैलेंस या मोबाइल इंटरनेट का होना भी जरूरी नहीं। ये सर्विस आपातकालीन परिस्थितियों में फंसी महिलाओं को कम्यूनिकेशन करने का मौका देकर उनकी तत्काल मदद करेगी।

इस सर्विस को बैडमिंटन स्टार, ओलम्पिक पदक विजेता पीवी सिंधु ने लॉन्च किया। हाल ही में दो कंपनियों के विलय के बाद बना वोडाफोन आइडिया लिमिटेड महिला कस्टमर पर विशेष ध्यान दे रहा है। हम देख सकते हैं कि टेलीकॉम जगत में महिलाओं से जुड़े खास पैकेज या प्लान एक सिरे से गायब हैं।

‘सखि’ सर्विस की मदद से वोडाफोन आइडिया महिलाओं के लिए इमरजेंसी और संकट के हालात में अपनी जरूरी और उपयोगी सेवाएं देघा। कोई महिला जब परेशान या जोखिम भरे हालात में होती है, तो इमरजेंसी कॉन्टैक्ट की बड़ी अहम भूमिका होती है। महिलाओं के साथ गैंगरेप, छेड़छाड़ जैसी घटनाएं हाल में बहुत बढ़ गई हैं। ऐसे में उनकी सुरक्षा को देखते हुए देश में इमरजेंसी कॉन्टैक्ट एक मुख्य मुद्दा बन गया है। इस माहौल में ‘सखि’ का आना बहुत बड़ी राहत है।

महिला यूजर के लिए आपातकालीन सेवा

महिलाओं की सुरक्षा की जरूरत को पहचानते हुए वोडाफान ने अपने महिला यूजर के लिए नई सोच के साथ वोडाफ़ोन सखि सेवा शुरू की है। इसमें प्राइवेट नंबर रीचार्ज, इमरजेंसी अलर्ट और इमरजेंसी बैलेंस जैसे तीन खास खूबियां होंगी। वोडाफोन सखि सर्विस की हकदार वैसी महिलाएं होंगी जिनके पास वोडाफ़ोन का प्रीपेड मोबाइल कनेक्शन होगा। ये सर्विस उन्हें जरूरत पड़ने और आपातकाल में इमरजेंसी कनेक्टिविटी देगा।

बैलेंस की जरूरत नहीं

सखि सर्विस का सबसे महत्वपूर्ण फीचर ये है कि आपातकाल में यदि दुर्भाग्य से फोन में बैलेंस खत्म हो जाए, या मोबाइल इंटरनेट कनेक्टिविटी मौजूद न हो, दोनों ही हालात में फोन करने की सुविधा उपलब्ध होगी। इसके अलावा ये सर्विस स्मार्टफ़ोन और फीचर फोन दोनों सर्विस के लिए होगी। यानी इस सर्विस को देश के किसी भी कोने में वोडाफोन यूजर वर्चुअली एक्सेस कर सकेगा।

वोडाफोन कंज्यूमर बिजनेस के असोसिएट डायरेक्टर अवनीश खोसला के मुताबिक,  कंपनी का मकसद लाखों की संख्या में मौजूद उन महिलाओं तक पहुंचना है जिनके पास मोबाइल फोन कनेक्टिविटी नहीं है। आंकड़ा देखें, तो जहां भारत में 100 करोड़ कुल मोबाइल कनेक्शन हैं, इनमें से केवल 18 फीसदी कनेक्शन ही महिलाओं के हैं। वोडाफोन ने ऐसे में अपार संभावनाएं देखते हुए इस क्षेत्र में कदम बढ़ाया है।

अवनीश का कहना है कि महिला के पास न केवल मोबाइल कनेक्शन कम है, बल्कि उनकी पहुंच बेसिक और फीचर फोन तक ही है। ये आंकड़ें बताते हैं कि इस मामले में महिलाएं अभी सशक्त नहीं हुई हैं।

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment