Monday, December 3, 2018

ये 6 दिग्गज खिलाड़ी हुए विश्कप से बाहर,पांचवे वाले ने तो भारत को जिताया था विश्कप

जैसा की आप सभी अवगत ही होगें कि विश्‍वकप 2019 के लिये अब अधिक समय नही बचा है जिसके चालते अभी से संबंधित टीमें अपनी अपनी तैयारियों में लग चुकी है। वहीं इंडियन टीम इन दिनों ऑसट्रेलिया दौरे में व्‍यस्‍थ चल रही है। हालांकि इस दौरे के पश्‍चात इंडियन टीम को न्‍यूजीलैंड दौरे पर जाना है उसके पश्‍चात ऑस्‍ट्रेलियाई टीम का भारत दौरे होना है, उसके पश्‍चात इंडियन टीम को विश्‍वकप में भी हिस्‍सा लेना है।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि इस बार विश्‍वकप में 10 देशों की सबसे खतरनाक टीमे हिस्‍सा लेने वाली है। जिसके चलते इंडियन टीम में कई महत्‍वपूर्ण बदलाव देखने को मिल सकते है। ऐसे में इस बार इंडियन टीम में कुछ युवा खिलाडि़यों को भी अवसर मिल सकते है तो वहीं 6 ऐसे भी खिलाड़ी है, जो 2019 विश्व कप से पहले ही खराब फॉर्म में चल जाते हैं तो उनका 2019 में विश्व कप खेलने का सपना टूट सकता है, जिन 6 खिलाडियों की बात की जा रही है वो कुछ इस प्रकार से है….

पहला : ऑफ स्पिनर आर अश्विन ने ओडीआई में भारत के लिए अबम भूमिका अदा की है, 2010 में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ वनडे डेब्यू किया था, उन्होंने 111 मैचों में 150 विकेट चटकाए हैं, 2015 विश्व कप में उन्होंने 8 पारियों में 13 विकेट गिराए थे, उन्होंने अपना आखिरी वनडे विंडीज के खिलाफ 2017 में खेला था, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की वजह से इस बार उनका पत्ता कट सकती है।

दूसरा : सुरेश रैना को बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक माना जाता है, उन्होंने कुल 226 ODI खेली हैं, जिसमें उन्होंने 5615 रन बनाए हैं, उनका बेस्ट स्कोर 116 नाबाद था, साल 2015 में हुए विश्व कप में उन्होंने टीम के लिए अहम भूमिका निभाई थी, उन्होंने अपनी 6 पारियों में 284 रन बनाए थे।

तीसरा : अक्षर पटेल को कुछ ही समय के लिए वनडे मैच खिलाया गया, उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ 2014 में टेस्ट डेब्यू किया था, उन्होंने अब तक खेले वनडे 38 मैचों 45 विकेट लिए हैं, उनका बेस्ट स्कोर 3/34 रहा है।

चौथा : साल 2011 में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे डेब्यू करने वाले रहाणे ने अब तक 90 वनडे खेले हैं, जिसमें उन्होंने 2962 रन बनाए हैं, 2015 विश्व कप में रहाणे ने खेला था, उन्होंने 8 मैचों में 2018 रन बनाए थे, उन्होंने तब बेस्ट स्कोर 79 रहा था, रायुडु की वजह से रहाणे का पत्ता 2019 में कट सकता है।

पांचवा : 3 ऑक्टूबर 2000 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना वनडे डेब्यू करने वाले युवी ने 304 ओडीआई खेली हैं, साल 2011 विश्व कप में युवराज सिंह ऑल राउंडर स्टार की तरह उभरे थे, उन्होंने 9 मैच के टूर्नामेंट में 15 विकेष लिए थे, और 362 रन भी बनाए थे, तब वो कैंसर से जूझ रहे थे, उस टूर्नामेंट में उनको मैन ऑफ द सीरीज का खिताब भी मिला था, उसके बाद उनका ट्रीटमेंट पर चले गए, 2015 विश्व कप में उनको खेलने का मौका नहीं दिया गया था, उन्होंने अपना आखिरी ODI 2017 में विंडीज के खिलाफ खेली थी।

छठा : 2015 टूर्नामेंट में शमी का बड़ा योगदान रहा था, उन्होंने 7 मैचों में 17 विकेट गिराए थे, उन्होंने सबसे बेस्ट स्कोर 4/35 रहा था, जो आज तक सबसे बेस्ट ODI स्कोर है,शामी में 2013 में अपना आखिरी वनडे खेला था वो भी पाक के खिलाफ,उन्होंने केवल 52 वनडे खेले हैं जिसमें उन्होंने 94 विकेट लिए हैं,खलील अहमद बेहतरीन फॉर्म में हैं इसलिए हो सकता है कि शमी इस बार बेंच पर बैठे।

उपरोक्‍त खिलाडि़यों के संबंध में आप लोगों की क्‍या प्रतिक्रियायें है?कमेंट बॉक्‍स में अपनी महत्‍वपूर्ण राय अवश्‍य लिखें। साथ ही ऐसी ही पोस्ट लगातार पाने के लिए फेसबुक पेज लाइक अवश्‍य करें।

आगर आप पैसे कमाना चाहते है तो निचे दी गयी लिंक में क्लिक करे

gg.gg/earn-here

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment