Monday, December 3, 2018

जेट एयरवेज की उड़ाने रद्द, सैलरी न मिलने से नाराज पायलट लीव पर

निजी एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज रविवार को अपनी बहुत सी उड़ने रद्द कर दी.यह इसलिए हुआ कि उसके कुछ पायलट अपने बकाया का भुगतान नहीं होने को लेकर कथित तौर पर असहयोगात्मक रवैया अपनाते हुए काम पर नहीं आए.जिसकी वजह से एयरलाइन को अपनी कई उड़ानों का समय बदलने के बाद उनको रद्द करना पड़ा.

जानकारी के अनुसार एयरलाइन ने एक बयान में कहा कि आकस्मिक परिचालन परिस्थितियों के कारण, ना कि पायलटों के असहयोग की वजह से उड़ानें रद्द हुईं.एयरलाइन ने अपने जारी ब्यान में रद्द उड़ानों की संख्या नहीं बताई है.एक समाचार पत्र की रिपोर्ट के मुताबिक कुछ पायलट के बीमार पड़ने की वजह बताते हुए छुट्टी लेने के कारण अब तक कम से कम 14उड़ानें रद्द की गई हैं.बता दें कि यह लोग सैलरी और बकाये का भुगतान नहीं होने और इस मुद्दे को प्रबंधन के सामने उठाने में नेशनल एविएटर्स गिल्ड (एनएजी) के गैरज़िम्मेदाराना रवैये का विरोध कर रहे है.एनएजी जेट एयरवेज़ के पायलेटों की संस्था है जिसमे एक हज़ार से अधिक पायलट शामिल है.

जबकि घाटे में चल रही यह निजी कंपनी अगस्त से अपने प्रबंधन और पायलटों को पूरा सैलरी नहीं दे पा रही है. एयरलाइन ने सितंबर में इन कर्मियों को थोड़ा  सैलरी दिया था. जबकि अक्टूबर और नवंबर में भी पूरा सैलरी नहीं दिया गया. इस मामले में पायलटों ने एयरलाइन चेयरमैन नरेश गोयल को भी पत्र लिखकर कहा कि वे इस तरीके से काम करने के इच्छुक नहीं हैं.जल्दी ही कोई बड़ा फैसला नहीं लिया गया तो हम मजबूर होकर एयरलाइन से अलग हो सकते है.

रद्द उड़ानों के में जेट एयरवेज़ ने कहा कि यात्रियों को एसएमएस अलर्ट के जरिये उड़ान की स्थिति के बारे में पूरी जानकारी दी गई है और उन्हें या तो किसी अन्य उड़ान में सीट दी गई या उनके नुकसान की भरपाई की गयी है.

(हसन हैदर)

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment