Monday, December 3, 2018

WhatsApp द्वारा बताए गए तरीको से पहचाने फर्जी खबरें

फेसबुक के स्वामित्व वाले व्हाट्सऐप ने भारत के कई बड़े अखबारों में पूरे पेज का विज्ञापन दिया है। व्हाट्सऐप ने इस विज्ञापन में व्हाट्सऐप पर आने वाली फर्जी खबरों को पहचानने के तरीके बताए हैं। व्हाट्सऐप ने अपने विज्ञापन का शीर्षक ‘अफवाहों और झूठी खबरों को WhatsApp पर फैलने से रोकने में मदद कीजिए’ रखा है।

1. ऐसी खबरें पहचानिये जो झूठी (फेक) हो सकती हैं।
ऐसे संकेतों की जांच कीजिए जिनसे यह तय करने में मदद मिले कि जानकारी सच या झूठ, उदाहरण के लिए, फॉरवार्डेड मैसेजेस जिनका स्रोत ना हो, प्रमाण ना हो या ऐसे मैसेज जिनसे आपको गुस्सा आए। ऐसे मैसेज इस बात का संकेत हो सकते हैं कि वे सच नहीं है। फोटो, वीडियो और यहां तक कि वॉयस रिकॉर्डिंग भी एडिट की जा सकती है ताकि आपको गुमराह किया जा सके।

2. अन्य स्रोतों से भी उसकी जांच कर लें।
सच्चाई जानने के लिए ऑनलाइन सर्च कीजिए और भरोसेमंद समाचार की वेबसाइट्स से यह पता कीजिए यह स्टोरी कहां से आई है। अगर फिर भी शक हो तो सच्चाई जांटने वाली वेबसाइट्स भरोसेमंद लोगों या कम्युनिटी लीडर्स से अधिक जानकारी हासिल करें।

3. अफवाहों को फैलने से रोकिए।
अगर आपको लगता है कि कुछ फर्जी या फेक है तो लोगों से कहिए कि वे जानकारी शेयर करने से पहले उसकी जांच कर लें।ष मैसेज को सिर्फ इसलिए शेयर ना करें क्योंकि कोई आपको शेयर करने के लिए कह रहा है। भले ही वे आपके मित्र ही क्यों ना हों।

बता दें कि कुछ महीने पहले भी व्हाट्सऐप ने फर्जी खबरों को रोकने के लिए विज्ञापन जारी किए थे। उस विज्ञापन में भी लोगों से फर्जी खबरों को फैलने से रोकने के लिए अपील की गई थी।

आगर आप पैसे कमाना चाहते है तो निचे दी गयी लिंक में क्लिक करे &#8212 यहाँ जाये

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment