Monday, January 14, 2019

पुलिस ने दलित को मारी गोली, घरवालो से कहा फंसा दो किसी मुस्लिम को मिलेंगे इतने रुपए

हाल ही में दलित को लेकर एक बड़ा हैरान कर देना वाला मामला सामने आया है। खबर है कि हाल ही में एक दलित युवक पुलिस अधिकारी की गोली का शिकार हो गया। और उसकी मौत हो गयी। वही पुलिस इस मामले को कुछ अलग ही तरह से निपटने की कोशिश करी।

जानकारी के अनुसार ये मामला 2 अप्रैल का है। जब सभी कई सार दलित लोगो ने भारत बंद वाले आंदोलन में भाग लिया था। और इस दौरान कई लोग प्रशासन की कुरुर्ता का शिकार हुए। इस विरोध प्रदशर्न में 13 लोगो ने जान चली गयी  और कई लोग घायल भी हो गये। वही रविवार को 13 जनवरी को 2019 को इन लोगो के परिजनों रामलीला में मैदान 2 अप्रैल को एक राष्ट्रव्यापी विरोध के दौरान मारे गए 13 दलितों के परिवारों और 2,000 लोग जो घायल हुए थे, बहुजन सम्मान महासभा में सम्मानित किए गया थे इस दौरान एक दलित ने अपनी कहानी सुनाई।

एक शख्स जिसका नाम  सुरेश कुमार है उसने आरोप लगाया, उनके बेटे को गोली मार दी और उससे कहा गया कि वो हत्यारे के रूप में “किसी भी मुस्लिम का नाम” देने के लिए 10 लाख रुपये की पेशकश की।

बता जो दलित युवा मारा गया वो उत्तर प्रदेश के मुज़फ़्फ़रनगर के गादला गाँव के एक 60 वर्षीय मजदूर सुरेश का बेटा था जो मारा गया उसका नाम अमरेश था जो कि 22 वर्ष का था।

सुरेश ने बताया किउनके बेटे की हत्या के आरोपी इंस्पेक्टर ने उन्हें कुछ दिनों बाद उठाया और जिला मुख्यालय पर नई मंडी पुलिस स्टेशन ले गए। “उन्होंने मुझे अपने बेटे की हत्या में संदिग्ध के रूप में किसी भी मुस्लिम का नाम देने के लिए कहा, और कहा कि मुझे मुआवजे के रूप में 10 लाख रुपये मिलेंगे। मैने मना कर दिया। उन्होंने कहा कि अगर मैं शांति चाहता था, तो मुझे किसी का नाम लेना था। मैंने कहा, ‘मुझे पता है कि तुमने मेरे बेटे को मार डाला’, ‘सुरेश ने कहा। “उसने मुझे बुलाया (एक जाति के बाद का एक अपराधी) और मुझे मारने की धमकी दी। मैंने उसे चेतावनी दी कि मैं शिकायत करूंगा। बाद में, पुलिस ने हिंसा के लिए राम शरण नाम के एक दलित लड़के को गिरफ्तार कर लिया जिसमें अमरेश की मौत हो गई। ”

Share this&#8230
Share on Facebook
Facebook

Tweet about this on Twitter

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment