Wednesday, March 13, 2019

भारत और अमेरिका ने पाकिस्‍तान को उसकी धरती पर चल रहे आतंकी ढांचे को ध्‍वस्‍तकरने के ठोस कदम उठाने को कहा


भारत और अमेरिका इस बात पर सहमत है कि पाकिस्‍तान को अपनी धरती पर मौजूद आतंकवादी ढांचे को ध्‍वस्‍त करने और खुद को आतंकी गुटों की सुरक्षित शरण स्‍थली नहीं बनने देने के ठोस कदम उठाने होंगे। विदेश सचिव विजय गोखले और अमरीकी विदेश मंत्री माइकल पोम्पियो के बीच कल शाम वाशिंगटन मेंहुई बैठक में यह सहमति बनी। दोनों पक्ष इस बात पर भी सहमत थे कि आतंकवाद को किसी भीरूप में समर्थन या बढ़ावा देने वालों की जवाब देही तय होनी चाहिए।

श्री गोखले ने पुलवामा आतंकी हमलेके बाद भारत को अमरीका से मिले समर्थन की सराहना की। श्री पोम्पियो ने सीमा पार सेजारी आतंकवाद को लेकर भारत की चिंताओं पर सहमति व्‍यक्‍त की।

अमरीकी विदेश विभाग के उप प्रवक्‍तारॉबर्ट पैलाडीनो ने एक बयान में कहा कि दोनों पक्षों ने पुलवामा हमले के दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जरूरत पर चर्चा की।

पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले जम्मू-कश्‍मीर में यूनाईटेड कश्‍मीर पीपल्‍स नेशनल पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पुलवामा आतंकी हमले की कड़ी निंदा की है। पार्टी ने पाकिस्‍तान से उसके कब्‍ज़े वाले कश्‍मीर और अन्‍य जगहों में चलाए जा रहे आतंकी शिविरों को नष्‍ट करने को कहा है। जेनेवा में कल संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद के 40वें सत्र से अलग एक कार्यक्रम में यूनाईटेड कश्‍मीर पीपल्‍स नेशनल पार्टी के अध्‍यक्ष सरदार शौकत अली कश्‍मीरी ने पाकिस्‍तान की सेना पर भारत के खिलाफ आतंकवादियों के जरिए छद्म युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

No comments:

Post a Comment