Tuesday, March 12, 2019

संभोग के दौरान अगर आपके पार्टनर को भी होता है बहुत दर्द, तो जानिए उसका कारण और उपाए

पति-पत्नी का जवान खुशी से बीते इसके लिए उन्हें एक दूसरे को जानना बहुत जरुरी है। वही इस दौरान उन दोनों को एक मुख्य क्रिया संभोग भी करना जरुरी है। वही लेकिन कई लोगो को संभोग के दौरान एक बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

दरअसल, कई बार ऐसा होता है कि संभोग के दौरान महिला पार्टनर के प्राइवेट पार्ट में काफी तेज दर्द होता है। ये दर्द संभोग के दौरान भी हो सकता है, या संभोग के बाद भी हो सकता है। हालांकि अगर जब-कभी ऐसे दर्द से सामना होता है। तब अधिक परेशान होने की जरूरत नहीं है। लेकिन अगर किसी महिला को अक्सर ऐसी दर्द का सामना करना पड़ता है। तो उन्हें बिना देर किए, संबंधित डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। वहीं अगर इन परेशानियों को अगर आप किसी और के साथ शेयर नहीं करना चाहते तो अपने पार्टनर से जरूर करें।

आपको बता दें कि संभोग के दौरान अक्सर प्राइवेट पार्ट में दर्द होने गंभीर बीमारी का भी संकेत हो सकता है। वहीस दर्द को ‘डिस्पोरेनिया’ कहा जाता है। ऐसी अवस्था में कई बार दर्द के साथ-साथ प्राइवेट पार्ट से ब्लड भी निकलने लगता है। अगर कभी ऐसा हो तो बिना देर किए आप गायनोकोलॉजिस्ट से संपर्क करें और उन्हें खुलकर सभी परेशानियों सो रूबरू कराएं।

जानकारी एक अनुसार संभोग के दौरान महिलाओं के प्राइवेट पार्ट मे दर्द सूखापन या इंफेक्शन के कारण भी हो सकता है। इंफेक्शन के कारण प्राइवेट पार्ट में जलन व खुजली की समस्या भी होती है, जिसके कारण संभोग के दौरान तेज दर्द का सामना करना पड़ सकता है।

वहीं कई बार ऐसे दर्द योनि में संकुचन के कारण भी हो सकते हैं। इसके अलावा अगर कोई महिला काम या किसी अन्य कारण से डिप्रेशन का शिकार रहती हैं तो उनके साथ ऐसी परेशानियों लाजमी हो सकती है। जबकि पेल्विक में सूजन के कारण भी तेज दर्द का सामना करना पड़ सकता है।

वही इस समस्या से निजात पाने के लिए आप संभोग के दौरान इस तरह के दर्द से मुक्ति पाना चाहते हैं। तो लुब्रिकेंट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है, अगर अक्सर दर्द से पाला पड़ रहा है तो इसे नजरअंदाज न करें, क्योंकि समय के साथ ये परेशानिया आपके लिए नासूर भी साबित हो सकती है।

Share this&#8230
Share on WhatsappWhatsappShare on FacebookFacebookTweet about this on TwitterTwitter

No comments:

Post a Comment