Tuesday, March 12, 2019

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये चार परियोजनाओं का संयुक्‍त रूप से उद्घाटन किया

PM Narendra Modi and PM Sheikh Hasina jointly inaugurated four projects through video conferencing

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने सड़क यातायात, स्‍वास्‍थ्‍य और शिक्षा सहित विभिन्‍न क्षेत्रों में चार परियोजनाओं का आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संयुक्‍त रूप से उद्घाटन किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा ये सभी प्रोजेक्‍ट्स सीधे रूप से जनता के जीवन से जुड़े हुए हैं। ये प्रोजेक्‍ट्स दर्शाते है कि भारत बांग्‍लादेश संबंध दोनों देशों की जनता की क्‍वालिटी ऑफ लाइफ सुधारने के लिए महत्‍वपूर्ण और सकारात्‍मक भूमिका अदा कर रहे है। फ्रैंड्स, भारत और बांग्‍लादेश के लोगों के संबंध आत्‍मीयता और पारिवारिक भावनाओं से परिपूर्ण संबंध है। बांग्‍लादेश का विकास भारत के लिए खुशी का विषय तो है ही हमारे लिए प्रेरणा का स्रोत भी है।

प्रधानमंत्री ने प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि दोनों देशों ने न केवल परिवहन क्षेत्र में बल्कि ज्ञान के क्षेत्र में भी सम्‍पर्क बढ़ाने के लिए कदम उठाये हैं।

बांग्‍लादेश से जुड़कर भारत का नेशनल नॉलेज नेटवर्क अब बांग्‍लादेश के स्‍कॉलर्स और रिसर्च संस्‍थानों के भारत और पूरे विश्‍व के साथ जोड़ने वाली एक मजबूत कड़ी बनेगा। बसों और ट्रकस की आपूर्ति बांग्‍लादेश सरकार द्वारा एर्फोटेबल पब्लिक ट्रांसपोर्ट प्रदान करने के प्रयासों में सहायक भूमिका अदा करेगी। वॉटर ट्रीटमेंट प्‍लांट्स हजारों घरों में शुद्ध पेयजल पहुंचाएंगे और कम्‍युनिटी क्‍लीनिक से लगभग दो लाख लोग लाभान्वित होंगे जिन्‍हें अपने घरों के पास स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं उपलब्‍ध होगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सुश्री हसीना के साथ यह छठी वीडियो कांफ्रेंसिंग बैठक है, जो दोनों देशों के बीच प्रगाढ़ और मजबूत संबंध होने का प्रतीक है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बंगलादेश की प्रधानमंत्री का दृष्टिकोण भारत और बंगलादेश के बीच सम्‍पर्क को मजबूत करने के लिए प्रेरणा का स्रोत है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में दोनों देशों के संबंधों ने नई ऊंचाइयां हासिल की हैं।

एक्‍सीलेंसी साथ मिलकर पिछले पांच वर्षों में भारत-बांग्‍लादेश संबंधों के सोनाली अध्‍याय पर काम करने को मैं अपना बहुत बड़ा सौभाग्‍य मानता हूं और मुझे पूरा विश्‍वास है कि पिछले पांच वर्ष हमारे लिए जितने गौरवशाली रहे हैं आगामी पांच वर्षों में हमारे द्विपक्षीय संबंध उससे भी अधिक ऊंचाई हासिल करेंगे। ये मेरा विश्‍वास भी है और प्रतिबद्धता भी।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

No comments:

Post a Comment