Tuesday, March 12, 2019

जाने क्या है रात के समय चावल ना खाने की हकीकत

वैसे तो चावल खाना हर किसी को पसंद है। पर चावल का प्रयोग रात में करने से आपके शरीर के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

अनाजों को लेकर कई तरह के मिथक प्रचलित हैं, विशेषकर चावल को लेकर। भारत के कई राज्यों में चावल का उपयोग प्रमुख अनाज के रूप में किया जाता है। लेकिन इससे जुड़े कई मिथक हैं, जो लोगों के लिए चावल खाना कठिन बना देते हैं। इसी तरह गेहूं को लेकर भी कई धारणाएं लोगों के मन में हैं। तो आइए जानते हैं कि क्या हैं।

चावल ग्लूटन मुक्त होता है और इसे खाने से किसी भी प्रकार की एलर्जी नहीं होती, जो ग्लूटन के सेवन से होती है। जिन अनाजों में ग्लूटन अधिक होता है, उन्हें उन लोगों के लिए अच्छा नहीं माना जाता, जिन्हें डायबिटीज है या जो अपना वजन कम करना चाहते हैं। जो लोग वजन कम करना चाहते हैं, वो अपने डाइट चार्ट से चावल को पूरी तरह निकाल देते है। क्यूंकि चावल मोटापा बढ़ता है। चावल पचने में आसान होता है। इसमें वसा की मात्रा कम होती है और ये कोलेस्ट्रॉल फ्री होता है। इसमें कैलोरी भी गेहूं से कम होती है। यह सही है कि इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है, जिसका वजन बढ़ने से सीधा संबंध है, लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि हमारे लिए कार्बोहाइड्रेट ही ऊर्जा का सबसे प्रमुख स्रोत है। वैसे जो लोग वजन कम करना चाहते हैं, उन लोगो को चावल का सेवन कम मात्रा में करना चाइये।

Share this&#8230
Share on FacebookFacebookTweet about this on TwitterTwitter

No comments:

Post a Comment