Thursday, July 11, 2019

आंख मूंदकर खड़े रहे अंपायर और लूट लिया गया सवा अरब भारतीयों का सपना, जानिए कैसे ?

वो हो गया, जो किसी ने न सोचा था. 240 रनों के आसान नजर आने वाले लक्ष्य के सामने टीम इंडिया के धुरंधर बल्लेबाज फेल हो गए. न्यूजीलैंड अब लगातार दूसरी बार वर्ल्ड कप का फाइनल खेलेगी और विराट कोहली की टीम वापस हिंदुस्तान की फ्लाइट पकड़ेगी. इस हार के लिए यूं तो पूरी टीम जिम्मेदार है, लेकिन मैदान में खड़े अंपायर भी इसके कम जिम्मेदार नहीं हैं. दरअसल इस मैच की एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल है, जिसे देख आपको भी अंपायरों के गुनाह का पता लग जाएगा.

इस मैच में जबतक धोनी क्रीज पर थे, जीत की आस थी. 49वें ओवर में वो 2 रन लेने के चक्कर में रनआउट हो गए. लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि धोनी के आउट होने का कारण अंपायर ही है. दरअसल धोनी जब 48वें ओवर में बल्लेबाजी कर रहे थे उस समय न्यूजीलैंड के 4 खिलाड़ी 30 गज घेरे के अंदर थे, लेकिन अगले ओवर में जब धोनी रन आउट हुए, उससे पहले न्यूजीलैंड की फिल्डिंग में बदलाव हुआ था.

हुआ यूं कि जब धोनी रन आउट हुए, तो उस गेंद के होने से पहले पहले टीवी पर न्यूजीलैंड की फील्डिंग ग्राफिक दिखाई गई थी. इसमें 6 खिलाड़ी 30 गज के घेरे से बाहर खड़े दिखाई दे रहे थे. जबकि नियम के तहत तीसरे पावर प्ले में 5 से ज्यादा फील्डर 30 गज के घेरे से बाहर नहीं होने चाहिए. ऐसे में अंपायरों को ये गेंद नो बॉल करार देनी चाहिए थी.

वैसे तो नो बॉल पर बल्लेबाज रन आउट होता है. लेकिन अगर अंपायर गेंद होने से पहले एक्शन लेते तो शायद मार्टिन गप्टिल 30 गज के घेरे के अंदर होते. शायद धोनी 2 रन लेने की कोशिश ना करते और शायद मैच का नतीजा कुछ और ही होता.

 

 

No comments:

Post a Comment