Friday, August 16, 2019

फिर याद आए ‘अटल’, राष्ट्रपति और पीएम नरेंद्र मोदी ने दी श्रद्धांजलि

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की आज (16 अगस्त) पहली पुण्यतिथि है।16 अगस्त 2018 को अटलजी का निधन हुआ था। पीएम मोदी और उनके कई कैबिनेट सहयोगी ने अटल जी की पहली पुण्यतिथि पर नई दिल्ली में बीजेपी के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को नमन करते हुए सदैव अटल स्थल पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

वाजपेयी

भारत के राजनीतिक इतिहास में अटल बिहारी वाजपेयी का संपूर्ण व्यक्तित्व शिखर पुरुष के रूप में दर्ज है। उनके भाषण के सभी कायल रहे हैं। अपने करियर की शुरुआत पत्रकारिता से करने वाले वाजपेयी का पत्रकारों को लेकर बहुत सरल व्यवहार रहा। उन्होंने एक बार पत्रकारों से कहा था कि ‘मैं पत्रकार होना चाहता था, बन गया प्रधानमंत्री, आजकल पत्रकार मेरी हालत खराब कर रहे हैं, मैं बुरा नहीं मानता हूं, क्योंकि मैं पहले यह कर चुका हूं…’

वाजपेयी

बता दें कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और देश के सबसे बड़े नेताओं में से एक, वाजपेयी ने 16 अगस्त, 2018 को दिल्ली के एम्स अस्पताल में अंतिम सांस ली थी। अटल जी को उनकी बेटी नमिता कौर भट्टाचार्य और उनकी पोती निहारिका ने भी सदैव अटल स्थल पर दी श्रद्धांजलि। केंद्रीय मंत्री अमित शाह बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा और कई बड़े नेताओं ने नमन किया।

अटल जी के व्यक्तित्व की सबसे खास बात थी कि वो सभी को साथ लेकर चलते थे और अपने भाषण में शब्दों के चयन को लेकर उन्हें सबसे सम्मान मिलता था। यही वजह थी कि वाजपेयी के विरोधी तो कई थे लेकिन उनके दुश्मन नहीं थे। यहां तक ​​कि उन्होंने इंदिरा गांधी को मां दुर्गा बताया और अपनी ही पार्टी के सहयोगियों से व्यापक निंदा की। आज अटल तो हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनकी याद हमेशा अमर रहेगी।

    अपने पांच साल के कार्यकाल के दौरान यह पहली बार हुआ था जब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस में संवादताताओं से रूबरू हुए ।…

    No comments:

    Post a Comment