Friday, August 16, 2019

CORAS: रेल मंत्रालय रेलवे सुरक्षा के लिए कमांडो की शुरूआत

CORAS: रेल मंत्रालय रेलवे सुरक्षा के लिए कमांडो की शुरूआत केंद्रीय रेल मंत्रालय ने भारतीय रेलवे के कोरास (रेलवे सुरक्षा के लिए कमांडो) का शुभारंभ किया। यह रेलवे सुरक्षा बल (RPF) की अलग कमांडो यूनिट है। यह रेलवे सुरक्षा बल (RPF) और रेलवे सुरक्षा विशेष बल (RPSF) के प्रेरित और इच्छुक युवा कर्मचारियों से लिया गया है।

रेलवे सुरक्षा के लिए कमांडो (कोरस) के बारे में

कॉरास का विजन स्टेटमेंट: (i) किसी भी स्थिति से संबंधित क्षति, गड़बड़ी, ट्रेन / रेलवे परिचालन में व्यवधान, हमले / अपहर्ता / बंधक, रेलवे क्षेत्रों में आपदा स्थितियों से संबंधित विशेष प्रतिक्रियाकर्ता की विश्व स्तर की क्षमताओं का विकास करना।
(ii) मूर्खतापूर्ण सुरक्षा प्रदान करना भारतीय रेलवे और इसके उपयोगकर्ताओं को ग्रेडेड प्रतिक्रिया, न्यूनतम प्रभावी बल के सिद्धांत का पालन करके।

कोरस कमांडो

कोरस कमांडो की औसत आयु 30-35 वर्ष के बीच होगी। ये कोरस कमांडो लेफ्ट विंग एक्सट्रीमिज्म (LWE) / उग्रवाद / आतंकवाद प्रभावित रेलवे क्षेत्रों में तैनात किए जाएंगे जहां यात्रियों और रेलवे नेटवर्क को सुरक्षा प्रदान करना अत्यंत प्राथमिकता है।

तो दोस्तों यहा इस पृष्ठ पर CORAS: रेल मंत्रालय रेलवे सुरक्षा के लिए कमांडो की शुरूआत के बारे में बताया गया है अगर ये आपको पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने friends के साथ social media में share जरूर करे। ताकि वे इस बारे में जान सके। और नवीनतम अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

CORAS: रेल मंत्रालय रेलवे सुरक्षा के लिए कमांडो की शुरूआत Parinaam Dekho.

No comments:

Post a Comment