Wednesday, October 9, 2019

सरकार ने राष्ट्रीय ई-आकलन योजना शुरू की

सरकार ने राष्ट्रीय ई-आकलन योजना शुरू की राष्ट्रीय ई-मूल्यांकन योजना को आयकर मूल्यांकन को तेज, सुगम और परेशानी मुक्त बनाने के लिए शुरू किया गया था। प्रणाली कर दाता और अधिकारी के बीच के मध्य पुरुषों को खत्म करने पर केंद्रित है। इसका उद्देश्य कर निर्धारण की प्रक्रिया में कोई समस्या आने पर कर दाता से सीधे संवाद करना है।

योजना की मुख्य विशेषताएं

  • उत्पन्न प्रणाली जोखिम प्रबंधन के लिए डिजिटल तकनीक का उपयोग करती है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, स्वचालित परीक्षा उपकरण और मशीन लर्निंग मुख्य रूप से सिस्टम को तैयार करने में उपयोग किए जाते हैं।
  • योजना का उद्देश्य मूल्यांकन करने वाले अधिकारी और कर दाता के बीच भौतिक इंटरफ़ेस को हटाना है
  • आयकर विभाग का मुख्य आयुक्त नई दिल्ली में केंद्र का प्रमुख होगा
    क्षेत्रीय ई &#8211 मूल्यांकन केंद्र चेन्नई, मुंबई, कोलकाता, पुणे, अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे में स्थापित किए जाने हैं।

योजना का कार्य

कर दाता को धारा 143 (2) के तहत नोटिस प्राप्त होता है यदि वह अपनी आय या कथित नुकसान के तहत रिपोर्ट करता है। नोटिस को इलेक्ट्रॉनिक रूप से उसके पंजीकृत ई-मेल के माध्यम से भेजा जाएगा। उसे नोटिस का जवाब देने के लिए 15 दिनों की अवधि प्रदान की जाती है

करदाता को शारीरिक रूप से उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं है। उसे अपने पंजीकृत खाते के माध्यम से जवाब देना है, जिसके लिए उसे भारत के आयकर अधिनियम की धारा 143 (2) (एन ई &#8211 असेसमेंट सेंटर) से एक पावती मिलती है।

यह धारा आयकर विभाग को करदाताओं को 3 प्रकार के नोटिस भेजने की अनुमति देती है। उनमे शामिल है
सीमित जांच &#8211 ये नोटिस तब भेजे जाते हैं जब रिपोर्टिंग में कोई मिसमैच होता है। यहां कर दाता के रिटर्न के एक विशेष

क्षेत्र में जांच प्रतिबंधित है

पूर्ण जांच &#8211 इन नोटिसों में कर दाताओं की वापसी पूरी जांच के अधीन है।
मैनुअल स्क्रूटनी &#8211 ये नोटिस हैं जो पूर्वनिर्धारित मानदंडों के आधार पर जारी किए जाते हैं। ये मानदंड केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा सूचीबद्ध हैं।

तो दोस्तों यहा इस पृष्ठ पर सरकार ने राष्ट्रीय ई-आकलन योजना शुरू की के बारे में बताया गया है अगर ये आपको पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने friends के साथ social media में share जरूर करे। ताकि वे इस बारे में जान सके। और नवीनतम अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

सरकार ने राष्ट्रीय ई-आकलन योजना शुरू की Parinaam Dekho.

No comments:

Post a Comment