Saturday, October 12, 2019

Sharad Purnima 2019: कल है शरद पूर्णिमा, ये है शुभ मुहूर्त…

भारत में त्योहारों का खास महत्त्व होता है इन त्योहारों में Sharad Purnima भी खास है। आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहा जाता है। Sharad Purnima के साथ ही इसे रास पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है।

ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक पूरे वर्ष में केवल इसी दिन चंद्रमा सोलह कलाओं से निपुण होता है और इससे निकलने वाली किरणें इस रात में अमृत बरसाती हैं। शरद पूर्णिमा की रात्रि को दूध की खीर बनाकर चंद्रमा की रोशनी में रखी जाती है। मान्यता है कि चंद्रमा की किरणें खीर में पड़ने से यह अमृत समान गुणकारी और लाभकारी हो जाती हैं।

Sharad Purnima

महापुराण में कहा गया है कि, गोपिकाओं के अनुराग को देखते हुए भगवान कृष्ण ने आज के दिन चंद्र को महारास का संकेत दिया था। इसी दिन भगवान कृष्ण महारास रचना प्रारंभ करते है। चंद्र ने भगवान कृष्ण का संकेत समझते ही अपनी शीतल रश्मियों से प्रकृति को आच्छादित कर दिया और उन्हीं किरणों ने भगवान कृष्ण के चहरे पर सुंदर रोली कि तरह लालिमा भर दी।

कृष्ण की वंशी कि धुन सुनकर अपने अपने कर्मों में लीन सभी गोपियां अपना घर-बार छोड़कर भागती हुई वहां आ पहुचीं। कृष्ण और गोपिकाओं का अद्भुत प्रेम देखकर चंद्रमा ने अपनी सोममय किरणों से अमृत वर्षा आरंभ कर दी, जिसमें भीगकर गोपिकाएं अमरता को प्राप्त हुई और भगवान कृष्ण के अमर प्रेम की भागीदार बनी।

जानकारी के लिए बता दें कि शरद पूर्णिमा का व्रत 13 अक्टूबर (शुक्रवार) को रखा जाएगा।

शरद पूर्णिमा के व्रत का मुहूर्त :

  • पूर्णिमा आरंभ 13 अक्टूबर को 00:38:45 से
  • पूर्णिमा समाप्त 14 अक्टूबर 2019 को 02:39:58 पर

    बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना की फिल्म ‘Bala’ का ट्रेलर रिलीज हो गया है। फिल्म के ट्रेलर में एक बार फिर आयुष्मान खुराना अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाने की कोशिश करते…

    No comments:

    Post a Comment