Saturday, November 2, 2019

कोहली से होती थी जिसकी तुलना, बॉल टैंपरिंग करता पकड़ा गया वो पाकिस्तानी

बॉल टैंपरिंग याने क्रिकेट मैच के दौरान गेंद की सूरत बदलने या फिर कहें कि अपने हिसाब से करने का गुनाह. पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद यही करते पकड़े गए हैं. उनको घरेलू क्रिकेट में  बॉल टैंपरिंग में दोषी पाया गया है. गेंद से छेड़खानी करने के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने शहजाद पर मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना ठोका है.

अहमद शहजाद ने कायद-ए-आजम ट्रॉफी में सिंध के खिलाफ सेंट्रल पंजाब की ओर से खेलते हुए गेंद से छेड़छाड़ की. यह घटना सिंध की पहली पारी के 17वें ओवर के दौरान घटी जब गेंद के सामान्य निरीक्षण के दौरान मैदानी अंपायर मोहम्मद आसिफ और जमीर अहमद ने पाया कि क्षेत्ररक्षण कर रही टीम के एक सदस्य ने गलत तरीके से गेंद की शक्ल बदल दी है.

इस मामले को मैच रैफरी के समक्ष रखा गया जिन्होंने ड्रॉ हुए मैच के बाद मामले की सुनवाई की. पीसीबी ने कहा, अहमद ने इस आरोप को स्वीकार नहीं किया इसलिये मैच के बाद सुनवाई हुई जिसमें अहमद को दोषी पाया गया.

वहीं, शाहजाद का कहना है कि, गेंद में जो बदलाव आया वो खेल में उसके प्रयोग की वजह से था ना कि उसके साथ की गई छेड़खानी की वजह से. मैंने मैच के अधिकारियों को यह बात समझाने की कोशिश की, लेकिन वो इस बात को मानने को तैयार नहीं हुए.

अहमद शहजाद ने साल 2009 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था. शहजाद को पाकिस्तान का विराट कोहली भी कहा जाता है. हालांकि वो इन दिनों टीम से बाहर चल रहे हैं. वैसे ये पहली बार नहीं है जब शहजाद मुश्किल में घिरे हैं.

पिछले साल पीसीबी ने डोपिंग नियमों का पालन न करने को लेकर उन पर चार महीने का बैन लगाया था. इससे पहले जुलाई में वे प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन करने के लिए निलंबन भी झेल चुके हैं

No comments:

Post a Comment