Friday, November 1, 2019

कतारपुर यात्रा की फ़ीस व पासपोर्ट पर बोले इमरान खान, ‘कोई जरुरत नहीं है…

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने भारतीय श्रद्धालुओं को करतारपुर कॉरीडोर के उद्घाटन वाले दिन दो बड़ी रियायतों की घोषणा की है। इमरान ने कहा है कि अब सिख श्रद्धालुओं को वैद्य पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी और वे किसी भी वैद्य पहचान पत्र की मदद से यहां आ सकते हैं। बता दें कि पाक पीएम ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि गुरु नानक देव की 550वीं जयंती तथा उद्घाटन समारोह के दिन उनसे कोई शुल्क भी नहीं वसूला जाएगा।

वहीं करतापुर गलियारे को 9 नवम्बर से श्रद्धालुओं के लिए खोला जाएगा। इमरान खान ने ट्वीट किया, ‘भारत से करतारपुर आने वाले सिख तीर्थयात्रियों को पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी, केवल पहचान पत्र चाहिए होगा, उन्हें 10 दिन पहले पंजीकरण कराने की आवश्यकता भी नहीं है। उनसे गुरु जी की 550वीं जयंती और उद्घाटन समारोह पर कोई शुल्क भी नहीं वूसला जाएगा।&#8217

For Sikhs coming for pilgrimage to Kartarpur from India, I have waived off 2 requirements: i) they wont need a passport &#8211 just a valid ID ii) they no longer have to register 10 days in advance. Also, no fee will be charged on day of inauguration & on Guruji's 550th birthday

&mdash Imran Khan (@ImranKhanPTI) November 1, 2019

: करतारपुर गलियारे के उद्घाटन से पहले PAK ने जारी किया ख़ास सिक्का

आपको बता दें कि यह बहुप्रतीक्षित गलियारा पंजाब के गुरदासपुर में स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे को करतारपुर स्थित गुरुद्वारे दरबार साहिब से जोड़ता है जो अंतरराष्ट्रीय सीमा से महज 4km की दूरी पर पाक के पंजाब प्रांत के नरोवाल जिले में स्थित है। सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव ने पाकिस्तान के करतारपुर में रावी नदी के किनारे स्थित दरबार साहिब गुरुद्वारे में अपने जीवन के 18 वर्ष बिताए थे जो इसे श्रद्धालुओं के लिए एक पवित्र स्थल बनाता है।

: इस्लामिक देश ईरान में हुई नई सुबह, दशकों बाद महिलाओं ने देखा फुटबाल मैच

गौरतलब है कि दोनों देशों के बीच पिछले सप्ताह इस गलियारे को लेकर हुए समझौते के तहत 5,000 भारतीय तीर्थ यात्रियों को रोजाना दरबार साहिब गुरुद्वारे के दर्शन करने की अनुमति होगी। इसके लिए उन्हें करीब 1400 रुपए चुकाने होंगे। हालांकि भारत ने पाक से भारतीय श्रद्धालुओं से कोई शुल्क ना वसूलने का आग्रह भी किया है।

: भारत-चीन ने आतंकवाद और कट्टरपंथियों से साथ मिलकर लड़ने का लिया संकल्प

स्पष्ट आवाज़ पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करें. साथ ही फोन पर खबरे पढ़ने व देखने के लिए Play Store पर हमारा एप्प Spasht Awaz डाउनलोड करें।

कतारपुर यात्रा की फ़ीस व पासपोर्ट पर बोले इमरान खान, &#8216कोई जरुरत नहीं है&#8230 Spasht Awaz.

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

No comments:

Post a Comment