Saturday, November 9, 2019

अगर आपके घर में भी है ये पौधा तो, बीमारियां रहेंगी कोसों दूर

प्राचीन काल से तुलसी को हम अपने घरों में पूजते है। जैसा की सबको पता है कि तुलसी के पौधे को हिन्दू धर्म में पूजनीय माना जाता है। इसलिए हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को पवित्र और धार्मिक पौधा माना जाता है। कई धार्मिक कथाओं में तुलसी का जिक्र किया गया है।

Image result for tulsi ke faydeतुलसी के पौधे के बारे में ज्योतिषियों का कहना है कि तुलसी का पौधा घर में बहुत शुभ होता है। बता दें कि तुलसी को भगवान कृष्ण के भोग में रखना जरूरी माना जाता है। हर रोज घर में तुलसी के पौधे के नीचे दीपक रखने से सुख-समृद्धि आती है।

 imageआपको बता दें कि अगर तुलसी के पत्ते का सेवन रोजाना किया जाए तो बहुत सी बीमारियों से निजात पाया जा सकता। हिंदूओं के लगभग हर घर में पूजी जाने वाली तुलसी को अगर दवाई के रूप में इस्तेमाल किया जाए तो केवल जुकाम-बुखार ही नहीं बल्कि और भी बहुत सी बीमारियों से राहत मिल सकती हैं। तो चलिए जानें तुलसी के पत्ते का सेवन करना कितना फायदेमंद हो सकता है आपके लिए।

 imageदोस्तों अगर हम बात करें वैज्ञानिक भाषा में, तो तुलसी में एंटीइंफ्लेमेटरी, एंटीमाइक्रोबियल व एंटीऑक्सीडेंट गुण बहुत अच्छे से पाए जाते हैं।
इन गुणों के चलते ही तुलसी आपके लिए लाभकारी साबित होती है। यह कैंसर, डायबिटीज व ह्रदय रोग जैसी कई बीमारियों का इलाज करने में सक्षम है।

 imageइतना ही नहीं सर्दी-जुकाम व श्वासनली से जुड़े रोग व शरीर में आई सूजन को भी तुलसी की मदद से ठीक किया जा सकता है। तो वहीं अगर यह कहा जाए कि तुलसी आयुर्वेदिक औषधि है, तो गलत नहीं होगा। क्योंकि इसे न सिर्फ पूजा के लिए इस्तेमाल किया जाता है, बल्कि यह दवा का काम भी कर सकती है। तुलसी किस प्रकार सेहत, त्वचा व बालों के लिए कारगर है, उस बारे में हम आगे विस्तार से बता रहे हैं।

 imageआप सब जानते ही होंगे कि तुलसी को आयुर्वेद में संजीवनी बूटी के समान माना जाता है। आयुर्वेदिक चिकित्सा में तुलसी स्वास्थ्य के लिहाज से फायदेमंद बताई गई है। तुलसी को अदरक, मुलैठी और शहद के साथ खाया जाए तो बुखार में आराम मिलता है। इसके साथ ही मासिक धर्म के दौरान कमर में दर्द के दर्द को दूर करने के लिए एक चम्मच तुलसी का रस लें और मासिक धर्म नियमित हो इसके लिए भी तुलसी के पत्ते चबाने चाहिए।

1- सिरदर्द
दोस्तों अगर आप मे से किसी न किसी को ज्यादातर सिरदर्द कि शिकायत रहती ही है तो अगर आप तुलसी और दूध को सतह मे फेट ले और फिर इसको हर रोज पीएं तो आपकी सिरदर्द दूर हो जाए गई। और साथ ही मे इससे सिरदर्द से काफी राहत मिल जाएगी।

2- सांस संबंधी रोग जिन लोगों को सास संबंधी कोई बीमारी है तो वह भी इस दूध का सेवन करें। इसे पीने से आपको काफी आराम मिलेगा।
3- बारिश के मौसम में रोजाना तुलसी के पांच पत्ते खाने से बुखार व जुकाम नहीं होता है।
4- तुलसी की कुछ पत्तियों को चबाने से मुंह के छाले दूर हो जाते हैं और आपके दांत भी स्वस्थ रहते हैं।
5- तुलसी के पत्ते खाने से दाद, खुजली और त्वचा की अन्य समस्याओं से कुछ ही दिनों में यह रोग दूर हो जाता है।
6- रोज़ाना तुलसी की पत्तियां खाने से दमा और टीबी की बीमारी नहीं होती है। सांस की दु्र्गंध को दूर करने में भी तुलसी के पत्ते काफी फायदेमंद होते हैं।

7- तुलसी की मात्र 11 पत्तियों का 4 खड़ी काली मिर्च के साथ सेवन करके मलेरिया और टाइफाइड को ठीक किया जा सकता है।
8- तुलसी के आस-पास रहने वाले लोगों को कुष्ठ रोग होने की संभावना नही रहती है।
9- तुलसी का काढ़ा पीने से पुराने से पुराने माइग्रेन और साइनस को खत्म किया जा सकता है।
10- श्यामा तुलसी के पत्तों का रस आंखों में डालने से रतौंधी ठीक हो जाती है।

ं:

शोध: इतनी मात्रा में पानी पिने से कम होता है वजन

आपके रसोई में ही छिपा है वजन घटाने का सबसे तगड़ा फार्मूला!

इन कारणों से फैलता है मुंह का कैंसर- जानिए लक्षण और सावधानियां

स्पष्ट आवाज़ पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। साथ ही फोन पर खबरे पढ़ने व देखने के लिए Play Store पर हमारा एप्प Spasht Awaz डाउनलोड करें।

Risabh SinghRishabh Singh

shivamsinghrishabh@gmail.com

अगर आपके घर में भी है ये पौधा तो, बीमारियां रहेंगी कोसों दूर Spasht Awaz.

No comments:

Post a Comment