Sunday, November 24, 2019

INDvsBAN: भारत की ऐतिहासिक जीत, विराट सेना ने बनाया जीतने का खास वर्ल्ड रिकॉर्ड

विश्व की नंबर एक टीम भारत ने तेज गेंदबाजों उमेश यादव (53 रन पर पांच विकेट) और इशांत शर्मा (56 रन पर चार विकेट) की शानदार गेंदबाजी से बंगलादेश को दूसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के तीसरे ही दिन पहले सत्र में पारी और 46 रन से हराकर लगातार चार टेस्ट पारी से जीतने का नया विश्व रिकॉर्ड बना दिया। भारत ने इस सीरीज को 2-0 से क्लीन स्वीप किया। कोलकाता के ईडन गार्डन पर गुलाबी गेंद से खेले गए दोनों टीमों के पहले ऐतिहासिक डे-नाईट टेस्ट को जीतकर टीम इंडिया ने नया इतिहास रच दिया। बंगलादेश ने पहली पारी में 106 रन बनाये थे जबकि भारत ने 347 रन बनाकर पहली पारी में 241 रन की बढ़त हासिल कर ली। मेहमान टीम दूसरी पारी में 41.1 ओवर में 195 रन पर सिमट गयी।

मैच में नौ विकेट लेने वाले इशांत को प्लेयर ऑफ द मैच और प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला। इशांत ने इस मैच में पहली पारी में पांच और दूसरी पारी में चार विकेट लिए। मैच के पुरस्कार वितरण समारोह में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरभ गांगुली और बंगलादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन मौजूद थे। उन्होंने गुलाबी गेंद से पहला डे-नाईट टेस्ट जीतने वाली भारतीय टीम को बधाई दी।

भारत की पारी से यह लगातार चौथी जीत है और वह यह कारनामा करने वाली दुनिया की पहली टीम बन गयी है। भारत ने दक्षिण अफ्रीका से आखिरी दो टेस्ट पारी से और अब बंगलादेश से दो टेस्ट पारी से जीत लिए हैं। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पुणे में पारी और 137 रन से और रांची में पारी और 202 रन से तथा बंगलादेश को इंदौर में पारी और 130 रन से और कोलकाता में पारी और 46 रन से हराया। भारत ने अब लगातार सात टेस्ट जीत लिए हैं जबकि उसने साथ ही सीरीज क्लीन स्वीप की हैट्रिक भी बना ली है। भारत ने वेस्ट इंडीज को 2-0 से, दक्षिण अफ्रीका को 3-0 से और बंगलादेश को 2-0 से हराया। विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया की यह 33वीं जीत है और वह दुनिया के पांचवें सबसे सफल कप्तान बन गए हैं।

बंगलादेश ने कल के छह विकेट पर 152 रन से आगे खेलना शुरू किया और मुशफिकुर रहीम ने 59 रन से अपनी पारी को आगे बढ़ाया। बंगलादेश के शेष विकेट 43 रन जोड़कर गिर गए। उमेश ने आज के सभी तीन विकेट लिए और मैच में आठ विकेट पूरे किये। इशांत ने दूसरी पारी में चार विकेट लिए और उनके मैच में नौ विकेट रहे। कल रिटायर्ड हर्ट हुए महमूदुल्लाह फिर बल्लेबाजी करने नहीं उतरे और रिटायर्ड आउट हुए।

उमेश ने इबादत हुसैन को खाता खोलने का मौका नहीं दिया। उमेश ने मुशफिकुर को टीम के 184 के स्कोर पर आउट कर भारत की पारी से जीत का मार्ग प्रशस्त कर दिया। मुशफिकुर ने एकतरफा संघर्ष करते हुए 96 गेंदों पर 13 चौकों की मदद से 74 रन बनाये। उमेश ने अल-अमीन हुसैन को आउट कर बंगलादेश की पारी का समापन 195 रन पर कर दिया। अल-अमीन ने 20 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 21 रन बनाये।

भारतीय तेज गेंदबाजों ने इस मैच में 19 विकेट हासिल किये। भारतीय टेस्ट इतिहास में तेज गेंदबाजों के 19 विकेट लेने का यह दूसरा मौका है। इससे पहले 2018 में भारतीय तेज गेंदबाजों ने ट्रेंट ब्रिज में इंग्लैंड के खिलाफ 19 विकेट लिए थे। भारतीय तेज गेंदबाजों ने 2017-18 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहानसबर्ग में सभी 20 विकेट लिए थे।

भारत के लिए घरेलू टेस्ट में यह दूसरा मौका है जब किसी मैच में स्पिनरों ने कम से कम एक गेंद फेंकी है लेकिन पूरे मैच में स्पिनरों को कोई विकेट नहीं मिला है। इस मैच में तेज गेंदबाजों के 19 विकेट किसी घरेलू टेस्ट में भारत के सबसे ज्यादा विकेट हैं। इससे पहले भारतीय तेज गेंदबाजों ने 2017-18 में ईडन गार्डन में ही श्रीलंका के खिलाफ 17 विकेट हासिल किये थे।

No comments:

Post a Comment