Friday, January 10, 2020

छपाक को कर मुक्त करने के मप्र सरकार के फैसले की नेता प्रतिपक्ष ने आलोचना की

भोपाल : भाजपा नेता गोपाल भार्गव ने ‘छपाक’ फिल्म को रिलीज होने से पहले ही मध्यप्रदेश में कर मुक्त करने के प्रदेश सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि यह फिल्म यदि पोर्न होती तब भी कांग्रेस प्रशासन उसे यह राहत दे देता। छपाक फिल्म तेजाब हमले के पीड़ित लड़की की कहानी है। मेघना गुलजार द्वारा निर्देशित यह फिल्म तब चर्चा में आयी थी जब फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण हाल ही में जवाहर लाल नेहरू विश्वविदयालय के छात्रों से मिलने पहुंची थी। इस फिल्म को कांग्रेस शासित राज्यों मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में प्रदर्शित होने से पहले ही नौ जनवरी को कर मुक्त घोषित किया गया । मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीटर पर गुरुवार को इस फिल्म को प्रदेश में कर मुक्त करने की घोषणा करते हुए लिखा कि यह फ़िल्म समाज में तेजाब पीड़ित महिलाओं को लेकर सकारात्मक संदेश देने तथा तेजाब हमले की पीड़ा के साथ साथ आत्मविश्वास, संघर्ष, उम्मीद और जीने के जज़्बे की कहानी तथा ऐसे मामलों में समाज की सोच में बदलाव लाने के संदेश पर आधारित है। हालांकि भाजपा ने प्रदेश सरकार के इस फैसले की आलोचना की है। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दीपिका पादुकोण की इस फिल्म को कर मुक्त घोषित करने के सवाल पर हरदा में गुरुवार को पत्रकारों से कहा कि फिल्म को प्रदर्शन से पहले ही कर मुक्त कर दिया गया है। यह फिल्म स्टंट, एक्शन या कुछ भी…यहां तक पोर्न भी होती तब भी वह ऐसा कर सकते थे। भार्गव की टिपण्णी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस के मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने इस महिलाओं के प्रति अपमानजनक बताया और कहा कि एक तरफ मुख्यमंत्री कमलनाथ ने समाज में सकारात्मक संदेश देने के लिये फिल्म को कर मुक्त करने का निर्णय लिया है वहीं दूसरी ओर भार्गव का बयान हल्का और महिलाओं के प्रति अपमानजनक है। उन्होंने कहा कि यह भार्गव की महिलाओं के प्रति सोच को दर्शाता है।

No comments:

Post a Comment