Tuesday, March 3, 2020

IND vs NZ: कागज पर शेर मैदान में कैसे हुए ढेर, कारण हैं पूरे तीन

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने भी इस बात को माना की उनके बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण टीम इंडिया को यहां हार का सामना करना पड़ा. उन्होंने ये भी कहा कि उनकी टीम अपनी गलतियों को सुधारेगी और आगे बढ़ेगी. न्यूजीलैंड की टीम ने वर्ल्ड नंबर 1 टीम भारत को दोनों टेस्ट मैचों में मात दी और सीरीज पर 2-0 से कब्जा कर लिया. दूसरे दिन गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया लेकिन टीम के बल्लेबाज मैच को आगे नहीं ले जा पाए और टीम पूरी तरह से फेल हो गई.

ओपनिंग कॉम्बिनेशन पूरी तरह हुआ फेल

नए और बिना अनुभव वाले पृथ्वी शॉ और मंयक अग्रवाल को ओपनिंग की जिम्मेदारी दी गई थी. लेकिन यहां न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने दोनों खिलाड़ियों को रन नहीं बनाने दिए और लगातार दबाव में रखा. मयंक और पृथ्वी ने दो अलग इनिंग्स में अर्धशतक तो जमाया लेकिन मिडल ऑर्डर के लिए एक मजबूत बेस तैयार करने में पूरी तरह से विफल रहे.

न्यूजीलैंड के टेल एंडर्स का कमाल

दोनों टेस्ट मैचों में भारतीय टीम अच्छे पोजिशन में थी लेकिन न्यूजीलैंड के आखिरी बल्लेबाजों को आउट करने में टीम पूरी तरह से कामयाब नहीं हो पाई. ऐसे में कप्तान कोहली ने कहा कि मुझे लगता है कि आपको बल्ले और गेंद दोनों से कमाल दिखाना पड़ता है और अगर आप ऐसा करने में कामयाब होते हैं तभी आप विदेशों में मैच जीत सकते हैं.

अहम मौकों पर टीम इंडिया के बल्लेबाजों का विकेट गंवाना

एक तरफ जहां भारतीय गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे और लगातार न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को बड़ा स्कोर करने से रोक रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ टीम इंडिया के बल्लेबाज एक भी अहम साझेदारी नहीं कर पा रहे थे. यहां टीम का हर बल्लेबाज इस मामले में पीछे रह रहा था. हरी घास वाली पिच पर टीम इंडिया के बल्लेबाज बुरी तरह फेल रहे. ऐसे में एक तरफ जहां टीम को 250 तक पहुंचने में मुश्किल हो रही थी तो वहीं दूसरी पारी में टीम ने 90 रनों पर ही 6 विकेट और फिर 124 रनों पर टीम ऑल आउट हो गई जिससे अंत में न्यूजीलैंड की टीम आसानी से ये मैच जीत गई.

No comments:

Post a Comment