Tuesday, May 19, 2020

हाल ही में समाचार में बाल्टिक ट्रैवल बबल क्या है?

हाल ही में समाचार में बाल्टिक ट्रैवल बबल क्या है? बाल्टिक देशों ने एक दूसरे को “यात्रा बुलबुला” बनाने के लिए अपनी सीमाएं खोल दी हैं। इसे बाल्टिक ट्रैवल बबल कहा जा रहा है।

हाइलाइट

सीमाओं के खुलने से यूरोपीय राष्ट्र के नागरिक और निवासी स्वतंत्र रूप से आगे बढ़ सकते हैं। हालांकि, ज़ोन के बाहर से आने वाले लोगों को 14 दिनों के लिए छोड़ दिया जा रहा है। लॉक डाउन के बाद यह पहला ट्रैवल बबल है। बाल्टिक राज्य अन्य यूरोपीय राज्यों की तरह बुरी तरह प्रभावित नहीं हैं। इस क्षेत्र में 150 से भी कम मौतें हुई हैं। बाल्टिक ट्रैवल बबल में शामिल होने के लिए फिनलैंड और पोलैंड को बुलाया गया है।

Travel Bubble क्या है?

ट्रैवल बबल शब्द अप्रैल 2020 के महीने में अस्तित्व में आया। ट्रैवल बबल रणनीति के तहत, सरकारें दुनिया में सुरक्षित यात्रा क्षेत्रों से संबंधित यात्रा खोल देंगी। इसमें ऐसे क्षेत्र शामिल होंगे जहां वायरस का जोखिम न्यूनतम है। यह ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड द्वारा शुरू किया गया था। देशों ने हाल ही में उनके बीच यात्रा बुलबुले के विचार पर सहमति व्यक्त की।

बाल्टिक देश

बाल्टिक देश वे देश हैं जो उत्तरी यूरोप में और बाल्टिक समुद्र के पूर्वी तट में हैं। बाल्टिक राज्य के लिए संदर्भित देशों में एस्टोनिया, लिथुआनिया और लातविया शामिल हैं। बाल्टिक समुद्र की सीमा वाले देशों में रूस, स्वीडन, डेनमार्क, एस्टोनिया, फिनलैंड, लातविया, जर्मनी, पोलैंड, लिथुआनिया शामिल हैं।

तो दोस्तों यहा इस पृष्ठ पर हाल ही में समाचार में बाल्टिक ट्रैवल बबल क्या है? के बारे में बताया गया है अगर ये आपको पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने friends के साथ social media में share जरूर करे। ताकि वे इस बारे में जान सके। और नवीनतम अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

हाल ही में समाचार में बाल्टिक ट्रैवल बबल क्या है? Parinaam Dekho.

No comments:

Post a Comment