Saturday, December 8, 2018

परीक्षा से पहले बढ़ी छात्र-छात्रों की टेंशन, अब 75% उपस्थिति पर ही दे पाएंगे एग्जाम…

परीक्षा की जैसे जैसे तारीख नजदीक आ रही है और स्टूडेंट्स की टेंशन भी बढ़ चुकी है.मगर इस बीच 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्रों के लिए एक बुरी आ रही है. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा संस्थान (सीबीएसई)के एक नए निर्देश ने छात्रों और अभिभावकों की चिंता बढ़ा दी है। संस्थान ने 10वीं और बारहवीं के परीक्षार्थियों के परीक्षा में शामिल होने के लिए एक जनवरी 2019 तक 75 फीसदी उपस्थिति अनिवार्य कर दी है। सभी स्कूलों को आदेश दिए गए हैं कि तय मानक के मुताबिक अटेंडेंस न होने पर छात्रों को परीक्षा देने से रोक दिया जाए।

पहली बार जारी हुआ आदेश
सीबीएसई की ओर से पहली बार ऐसा आदेश जारी हुआ है। पत्र में कहा गया है कि यह निर्णय हाईकोर्ट के एक आदेश के बाद लिया गया है। संस्थान के सभी स्कूलों में यह आदेश लागू होगा। संस्थान की तरफ से कहा गया है कि अटेंडेंस कम होने पर परीक्षा न दे पाने वाले छात्र 15 जनवरी तक सीबीएसई के पास अपना पक्ष रख सकते हैं।

परीक्षा से पहले स्कूलों में शुरु हुआ रिवीजनकाउंसलिंग
संस्थान के सभी स्कूलों में सेकेंड टर्म की परीक्षाएं महीने के अंत में होंगी। रिवीजन क्लास शुरू हो गयी है। सभी क्लासों में विषय के हिसाब से छात्रों को रिवीजन कराया जा रहा है। रिवीजन के बाद सेकेंड टर्म की परीक्षाएं होंगी। सेकेंड टर्म के बाद प्री संस्थान की परीक्षाएं होंगी। उसके बाद काउंसलिंग होगी।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment