Friday, December 7, 2018

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की ममता बनर्जी को धमकी, राज्य में रथयात्रा तो ज़रूर निकलेगी

पश्चिम बंगाल में भाजपा रथयात्रा निकालना चाहती है.जिसकी वजह से सियासत का पारा दिसंबर माह में भी खूब गर्मा रहा है.बंगाल हाई कोर्ट ने भी रथयात्रा की अनुमति अभी तक नहीं दी है.इस रथयात्रा में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भी शामिल होना है.अब भाजपा रथयात्रा के माध्यम से राज्य में अपना दम दिखाना चाहती है लेकिन राज्य की ममता सरकार इसमें आड़े आ रही है.इसी घमासान में अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि पार्टी पश्चिम बंगाल में यात्रा ज़रूर निकलेगी.हमे ऐसा करने से कोई भी नहीं रोक सकता है.बता दें कि कलकत्ता उच्च न्यायलय ने गुरुवार को भाजपा की कूचबिहार में ‘रथयात्रा’ निकालने को अनुमति देने से इनकार कर दिया था क्योंकि राज्य सरकार ने ऐसा होने पर हिंसा का अंदेशा जताया था.

इसी मामले में अमित शाह ने मीडिया से कहा कि पश्चिम बंगाल में बदलाव के लिए भाजपा प्रतिबद्ध है.भाजपा की यात्रा रद्द नहीं, बल्कि स्थगित हुई हैं.उन्होंने ममता सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सबसे ज़्यादा सियासी हत्याएं इसी राज्य में हुई हैं.शाह ने आरोप लगाया कि राज्य का प्रशासन सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के लिए काम कर रहा है और ममता हमसे डरी हुई है.

शाह ने कहा कि राज्य में लोकतांत्रिक व्यवस्था का दहन हो रहा है. ममता सरकार लोकतंत्र का गला घोंट रही है. ममता सरकार आतंकवाद पर नकेल कसने में नाकाम रही है.उन्होंने कहा ममता जितना चाहे ज़ोर लगा ले लेकिन हम रथयात्रा तो निकालकर रहेंगे और हम ईंट से ईंट बजा देंगे.

हमने कई बार कोशिश करने के बाद भी राज्य सरकार ने रथयात्रा की इजाज़त नहीं दी.शाह ने पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही बातों में यह भी कहा कि ममता सरकार डरी हुई है.शाह ने कहा कि अदालत रथयात्रा की अनुमति भले नहीं दे. कूचबिहार में रैली जरूर आयोजित होगी और अगर इससे कानून व व्यवस्था की समस्या पैदा होती है तो उसके लिए सरकार व प्रशासन जिम्मेदार होगा.

(हसन हैदर)

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment