Monday, January 14, 2019

देखें, BCCI ने टीम इंडिया के हार्दिक पांड्या की जगह विजय शंकर को किया शामिल..

आज एक बार फिर मै कुछ खेल से जुडी नयी पोस्ट की अपडेट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को अंत तक पढ़ते रहे ..

बीसीसीआई ने टीम इंडिया के मशहूर ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की जगह विजय शंकर को शामिल किया है. हार्दिक को एक टीवी शो में महिलाओं के खिलाफ विवादस्पोस्ट बयान देने के मामले में प्रतिबंधित किया गया था. विजय शंकर मंगलवार को होने वाले भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज के दूसरे मैच से पहले टीम से जुड़ जाएगें. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरा वनडे एडिलेड में मंगलवार को खेला जाना है.

विजय शंकर इससे पहले पिछले साल मार्च में हुई निदहासट्रॉफी में टीम इंडिया का भाग रहे थे. तमिलनाडु के मध्य क्रम बल्लेबाज और मीडियम पेसर विजय टीम इंडिया के लिए 5 टी20 भी खेल चुके हैं. इन पांच टी20 में विजय ने केवल एक पारी में 19 गेंदों पर 17 रन बनाए थे इसमें तीन चौके शामिल थे.
वहीं इन पांच मैचों में विजय ने 9.00 की इकोनॉमी और 51.00 के औसत से कुल तीन विकेट लिए हैं.

अच्छा अनुभव नहीं रहा था 2018 में विजय का

साल 2019 भले ही विजय के लिए गुड लक लेके आया हो लेकिन 2018 के अपने टीम इंडिया के साथ का अनुभव वे भूलना चाहेंगे. दरअसल निदहास ट्रॉफी में विजय शंकर को हार्दिक की ही जगह आजमाया गया था. श्रीलंका में हुई इस त्रिकोणीय टी20 सीरीज में टीम इंडिया ने भले ही फाइनल में बांग्लादेश को हराकर ट्रॉफी जीती हो, लेकिन विजय शंकर के लिए यह काफी कड़वा अनुभव भरा मैच रहा था.

यह हुआ था निदहास ट्रॉफी के फाइनल में
निदहास ट्रॉफी के फाइनल मैच के सत्रह ओवर हो चुके थे. बांग्लादेश के 166 रन के जवाब में भारत का स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 132 रन हो चुका था. क्रीज पर मनीष पांडे के साथ विजय शंकर मौजूद थे. भारत को उस समय 18 गेंदों में 35 रन की जरूरत थी. भारत का रन रेट 7.76 था जबकि आवश्यक रनरेट 11.66 थे. दोनों बल्लेबाजों को देख कर लग नहीं रहा था कि मैच भारत के हाथ से निकल चुका है.

निचे कमेंट करके अपने राय जरुर बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment