Sunday, January 13, 2019

देखें ,विटामिन सी के प्रयोग से आंखों की रोशनी बढ़ जाती है। मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद कई लोगों को चश्मा लगाने की नौबत नहीं पड़ी!..

आज एक बार फिर मै जीवन से जुड़े कुछ जरुरी तथ्यों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

विटामिन सी के प्रयोग से आंखों की रोशनी बढ़ जाती है। मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद कई लोगों को चश्मा लगाने की नौबत नहीं पड़ी। उनके घाव एंटीबॉयोटिक दवाओं के मुकाबले जल्दी भर जाते हैं। यह निष्कर्ष जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के नेत्र रोग विशेषज्ञों द्वारा एलएलआर अस्पताल में 360 मरीजों पर किए गए शोध में सामने आया। इसे अंतरराष्ट्रीय जनरल &#8216करंट आई रिसर्च&#8217 में प्रकाशित किया गया है। इसमें डॉक्टरों ने विटामिन सी वाले फल और सब्जी नींबू, मुसम्मी, संतरा, आंवला आदि खाने की सलाह दी है।
मोतियाबिंद रोगियों पर रिसर्च नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. शालिनी मोहन के निर्देशन में डॉ. कोमल, डॉ.
अजय, डॉ. जयति ने मोतियाबिंद के ऑपरेशन कराने आए 360 मरीजों पर शोध किया। इनमें से 180 मरीजों को विटामिन सी और 180 को एंटीबॉयोटिक की दवाएं और आई ड्राप्स दिए गए। जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. शालिनी मोहन का कहना है कि मोतियाबिंद के ऑपरेशन में अपने तरीके का यह नया शोध है। इससे रोगियों को जल्द से जल्द लाभ मिलेगा।

चौंकाने वाले नतीजे सामने आए

-चिकित्सकों का दावा है कि विटामिन सी के प्रयोग से जो घाव 15 दिन में सही होते हैं, वह 7 से 11 दिन में ठीक हो गए।
&#8211 मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 95 फीसद रोगियों को सिलेंड्रिकल नंबर जारी होता है। जिसमें चश्मा लगाने की जरूरत पड़ती है। विटामिन सी के प्रयोग से 62 फीसद को चश्मे की आवश्यकता नहीं हुई।
-आंखों में चुभन की समस्या सिर्फ एक दो दिन ही रही। डॉक्टर बना रहे डाइट रिसर्च सफल होने पर डॉक्टर मरीजों को विटामिन सी युक्त भोजन करने की डाइट तैयार कर रहे हैं। इस प्रक्रिया से एंटीबॉयोटिक की कम से कम आवश्यकता पड़ेगी।

निचे कमेंट करके अपने राय जरुर बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

No comments:

Post a Comment