Monday, July 8, 2019

सौरव गांगुली : हिंदुस्तान का वो कप्तान जिसके लिए जान देने को भी तैयार थे युवराज

आज (8 जुलाई) सौरव गांगुली का जन्मदिन है और वह 47 साल के हो गए हैं. इस दिनों वह इंग्लैंड में जारी आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप-2019 में कमेंटेटर के तौर पर जुड़े हुए हैं. भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों में पहुंचाने वाले इस ‘बंगाल टाइगर’ का क्रिकेट करियर काफी अनोखा रहा है.

सौरव गांगुली भारत के एक ऐसे कप्तान रहे, जिन्होंने टीम इंडिया को विदेशों में जीतना सिखाया. गांगुली को दादा भी कहा जाता है. टीम इंडिया के इस दादा ने वर्ल्ड क्रिकेट में अपनी दादागीरी भी दिखाई.

सौरव गांगुली के 47वें जन्मदिन पर पढ़ें उनसे जुड़े कुछ चर्चित बयान:

युवराज सिंह – मैं ऐसे कप्तान के लिए मरने के लिए भी तैयार हूं.

सचिन तेंदुलकर – सौरव की सबसे बड़ी ताकत उनका दिमाग है. वह न सिर्फ नेट्स में बल्कि मानसिक तौर पर भी कड़ी मेहनत करने वाले हैं. वह वापसी करते हैं.

एमएस धोनी – ईमानदारी से कहूं तो टीवी स्क्रीन पर वह बहुत ही अलग दिखते हैं. अगर आप उनसे वास्तव में मिलें तो वह बहुत ही जोशीले व्यक्ति हैं.

इयान हिली (पूर्व ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर ) – सौरव गांगुली माइंड गेम के नए स्टीव वॉ हैं.

ऑस्ट्रेलियन टीम के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ – गांगुली पहले ऐसे कप्तान थे जिन्होंने भारतीय जिस तरह खेलता है उसकी धारणा बदल दी. अब भारत और ऑस्ट्रेलियाई टीम में बहुत ज्यादा अंतर नहीं है.

बाइचुंग भूटिया (भारत के स्टार फुटबॉलर) – सौरव ही एकमात्र वजह हैं जिसकी वजह से मैं आज क्रिकेट प्रेमी हूं.

No comments:

Post a Comment