Monday, August 12, 2019

दुर्गोत्सव : विश्व पटल पर रखने की तैयारी

पर्यटन को बढ़ावा देने की योजना

आ सकते हैं लियोनार्दों द कैप्रियो

कोलकाता : ऐसे में जब बंगालियों का सबसे बड़ा त्यौहार दुर्गोत्सव दरवाजे पर दस्तक दे रहा है, पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने इसे विश्व पटल पर रखने की तैयारी भी शुरू कर दी है। पूजा को देश के साथ ही विदेशी पर्यटकों के लिए आकर्षण का विषय वस्तु बनाने के लिए पर्यटन विभाग दिन-रात एक किए हुए है। इसके लिए फ्रांस के पर्यटन निदेशक सात्रो पियार से लेकर विश्व विख्यात फिल्म टॉइटेनिक के अभिनेता लियोनार्दो द कैप्रियो तक को लाने की कोशिशें जारी है। इतना ही नहीं सरकार ब्रूनेई के सुल्तान अलावा मशहूर फुटबाल क्लब चेलसी के मालिक को भी लाने की सरकार कोशिश कर रही है। इससे लोगों में पूजा के प्रति आकर्षण बढ़ेगा और इन मशहूर विदेशी हस्तियों के यहां पहुंचने पर और विदेशी पर्यटक भी पूजा के प्रति आकर्षित होंगे जिससे बंगाल के पर्यटन उद्योग को काफी बढ़ावा मिलेगा। ऐसा पर्यटन विभाग का मानना है। इस बारे में पर्यटन सचिव अत्रि भट्टाचार्य का कहना है कि इन लोगों के आने से पूजा के प्रति दूसरे संस्थानों, उनके सहयोगियों व पर्यटकों में भी दिलचस्पी बढ़ेगी। इसके अलावा 10 बड़े विश्वस्तरीय टूर ऑपरेटरों के दल को भी पूजा में लाया जा रहा है। मालूम हो कि पिछले साल अन्य वर्षों के मुकाबले 8 फीसदी विदेशी पर्यटकों ने कोलकाता के होटलों में बुकिंग करवाई थी। पर्यटन सचिव ने दावा किया कि इस बार इसमें और भी वृद्धि होगी। उल्लेखनीय है कि 12-14 सितम्बर के बीच इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स 17 साल बाद कोलकाता में सेमिनार करने जा रहे हैं जिसमें 1500 टूर ऑपरेटरों के शामिल होने की उम्मीद है। इस बार के सेमिनार का थीम भी दुर्गोत्सव ही है। सरकार अब दोल(होली) एवं पयला बैशाख को भी पर्यटन के नजरिए से देख रही है। इसके लिए भी कोशिशे जारी हैं। 

No comments:

Post a Comment