Tuesday, August 20, 2019

पी. चिदंबरम की मुश्किलें नहीं हो रही कम, सुप्रीम कोर्ट से भी नहीं मिली राहत

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम की मुश्किलें कम होने का नाम ही नहीं ले रहीं हैं। INX Media Case में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंरबम की मुश्किलें लगातार बढ़ती ही जा रही हैं। मंगलवार(20 अगस्त) को दिल्ली हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। लेकिन, शीर्ष कोर्ट के हस्तक्षेप के लिए उन्हें 21 अगस्त तक का इंतजार करना होगा।

बता दें कि पूर्व केंद्रीय मंत्री पी.चिदंबरम दिल्ली हाईकोर्ट से झटका लगने के बाद सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं। INX Media Case मामले में कोर्ट ने उन्हें राहत न देते हुए उनकी अग्रिम जमानत की दोनों याचिकाओं को खारिज कर दिया है। याचिका खारिज होने के बाद अब पी. चिदंबरम पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। बाद में पी चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोर्ट ने 25 जनवरी को इस मामले में अपना निर्णय सुरक्षित रख लिया था। जिस दौरान CBI और प्रवर्तन निदेशालय दोनों ने ही चिदंबरम की अर्जी का इस आधार पर विरोध किया था कि उनसे हिरासत में पूछताछ जरूरी है क्योंकि वह सवालों से बच रहे हैं।

पी. चिदंबरम के लिए पैरवी कर रहे सीनियर कांग्रेस नेता और वकील कपिल सिब्बल ने संवाददाताओं से कहा- हमें कल इस मामले में सबसे सीनियर जज से एप्रोच करने की सलाह दी गई है। इस केस की जांच प्रवर्तन निदेशालय और CBI कर रही है।

    अपने पांच साल के कार्यकाल के दौरान यह पहली बार हुआ था जब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस में संवादताताओं से रूबरू हुए ।…

    No comments:

    Post a Comment