Saturday, September 14, 2019

18 साल पुरानी बात याद कर इमोशनल हुए कोहली, बोले- कोटला में स्टैंड मिलना बड़ा सम्मान

भोपाल (13 सितंबर):  भारतीय कप्तान विराट कोहली का क्रिकेट में उनके योगदान के मद्देनजर फिरोजशाह कोटला स्टेडियम  के नए पवेलियन स्टैंड का उनके नाम पर नामकरण होने के बाद गुरुवार को पुरानी यादों को साझा किया। डीडीसीए  ने अपने सालाना पुरस्कार समारोह के दौरान फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम भी अरुण जेटली स्टेडियम रख दिया। गृह मंत्री अमित शाह ने दिवंगत जेटली के परिवार की मौजूदगी में अरुण जेटली क्रिकेट स्टेडियम का डिजिटल उद्घाटन किया।

इस दौरान इस समारोह में समारोह में विराट कोहली, उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा, मुख्य कोच रवि शास्त्री के अलावा टीम इंडिया के सभी खिलाड़ी मौजूद रहे। शुक्रवार को धर्मशाला टी-20 सीरीज के लिए रवाना हाने के लिए टीम के खिलाड़ी गुरुवार को दिल्ली पहुंचे।

विराट कोहली ने कहा, &#8216जब मैंने आज घर छोड़ा, तो मैंने अपने परिवार को एक किस्सा सुनाया। मुझे याद है कि 2001 में स्टेडियम में एक मैच देखने के लिए टिकट मिला था और मैंने खिलाड़ियों से ऑटोग्राफ मांगा था। आज उसी स्टेडियम में एक स्टैंड मेरे नाम किया गया, यही असली और एक बड़ा सम्मान है।&#8217 उन्होंने कहा, ‘2001 में जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच के दौरान मेरे बचपन के कोच राजकुमार शर्मा ने मुझे दो टिकट दिये। मुझे याद है कि जवागल श्रीनाथ के ऑटोग्राफ के लिये मैंने गैलरी फांद दी थी। मैं अपने भाई को बता रहा था कि हम कहां से कहां आ गए। आज इसी स्टेडियम में मेरे नाम से पवेलियन होना सपने जैसा है। यह बड़ा सम्मान है।’

बता दें कि अरुण जेटली का 24 अगस्त को निधन हो गया था। वह डीडीसीए के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के उपाध्यक्ष रह चुके थे। स्टेडियम को आधुनिक सुविधाओं से युक्त बनाने और दर्शक क्षमता बढ़ाने के साथ विश्वस्तरीय ड्रेसिंग रूम बनवाने का श्रेय अरुण जेटली को जाता है।

घर बैठे फ्री में पैसे कमाने के लिए अभी देख &#8211 यहाँ कमाये

No comments:

Post a Comment