Saturday, September 28, 2019

Allahabad High Court का बड़ा फैसला शादी में हुआ ध्वनि प्रदूषण तो लगेगा 10 लाख तक…

Allahabad High Court ने बारात के दौरान डीजे से होने वाले ध्वनि प्रदूषण पर सख्त आदेश दिया है। हाईकोर्ट के आदेश के मुताबिक अब सड़कों पर 100 मीटर से अधिक दूरी तक बारात के लोग डीजे के साथ नहीं घूम पाएंगे। अधिक दूरी तक बारात निकालने पर ध्वनि प्रदूषण और ट्रैफिक जाम होने की स्थिति में भारी जुर्माना वसूला जाएगा। ध्वनि प्रदूषण पर शिव वाटिका मैरिज हॉल द्वारा याचिका पर जस्टिस पीकेएस बघेल और जस्टिस पंकज भाटिया की पीठ ने यह आदेश दिया है। मामले की अगली सुनवाई 6 नवंबर को होगी।

पीठ ने कहा कि मैरिज हॉल में ध्वनि प्रदूषण की शिकायत पर 10 लाख रुपए तक का जुर्माना वसूला जाएगा। Allahabad High Court ने अपने फैसले में कहा कि सुशील चन्द्र श्रीवास्तव केस में दिए गए निर्देशों के तहत यदि किसी मैरिज हॉल में ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण कानून का पालन नहीं किया जाता है तो पहली गलती पर 1 लाख, दूसरी गलती पर 5 लाख और तीसरी गलती पर 10 लाख रूपये जुर्माना वसूला जाएगा। तीन गलती के बाद भी गलती होती है तो डीएम मैरिज हॉल का लाइसेंस रद्द कर देंगे।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि अगर पुलिस को मैरिज हॉल से अत्यधिक धूम-धड़ाम की शिकायत मिलती है तो पुलिस इस पर कार्रवाई करेगी। कोर्ट ने प्रयागराज विकास प्राधिकरण (PDA) के सचिव से 6 नवंबर तक इस संबंध में प्रगति रिपोर्ट मांगी है।

हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि प्रयागराज शहर में कानून के खिलाफ अनेक विवाह गृह चल रहे हैं। कोर्ट ने कहा PDA ने भी माना कि विवाह गृह शहर की यातायात व्यवस्था के लिए परेशानी खड़ी कर रहे है। हाईकोर्ट ने कहा कि मैरिज हॉल 1500 स्क्वायर गज में होने चाहिए जिसमें 18 मीटर चौड़ी सड़क और 18 मीटर फ्रंटेज जरूरी है। वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था का होना भी आवश्यक है।

    भारतीय सिनेमा जगत में Lata Mangeshkar ने अपनी मधुर आवाज से लोगों को अपना दीवाना बनाया हुआ है। आज Lata Mangeshkar अपना 89वां बर्थडे मना रही हैं। जानें Lata Mangeshkar…

    No comments:

    Post a Comment