Monday, September 30, 2019

चिटफंड घोटाला : पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार की अग्रिम जमानत पर मंगलवार को होगी सुनवाई

कोलकाता : कलकत्ता उच्च न्यायालय कोलकाता के सोमवार को पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई की। राजीव कुमार की जमानत याचिका पर सोमवार को सुनवाई पूरी हो गई और माना जा रहा है कि 1 अक्टूबर को अदालत इसपर फैसला दे सकती है। सोमवार को सीबीआई के वकील वाई जे दस्तूर ने न्यायमूर्ति एस मुंशी और न्यायमूर्ति एस दासगुप्ता की गुप्ता की पीठ के सामने कुमार की अग्रिम जमानत याचिका का विरोध करते हुए अपनी दलीलें पूरी कर ली। सीबीआई वकील की दलील पूरी होने के बाद बंद कमरे में मामले की सुनवाई कर रही पीठ ने सुनवाई स्थगित कर दी। कुमार के वकीलों ने पीठ के समक्ष गुरुवार को याचिका के समर्थन में अपनी दलीलें पूरी कर ली थीं। उनके वकीलों ने मामले में बंद कमरे में सुनवाई का अनुरोध किया था, जिसपर 25 सितंबर को अदालत ने सहमति प्रकट की थी। अदालत ने निर्देश दिया था कि सुनवाई के दौरान मामले से जुड़े वकील ही मौजूद रहेंगे।

शारदा चिटफंड: राजीव कुमार पेश नहीं हुए, गिरफ्तारी के लिए कोर्ट पहुंची सीबीआई

पूर्व में खारिज हो गई थी जमानत याचिका
बता दें कि अलीपुर जिला और सत्र अदालत ने 21 सितंबर को कुमार की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। केंद्रीय जांच एजेंसी ने करोड़ों रुपये के शारदा चिटफंड मामले में एक गवाह के तौर पर पूछताछ के लिए पेश होने को लेकर कुमार को कई नोटिस भेजे थे। वर्तमान में कुमार पश्चिम बंगाल अपराध शाखा विभाग (सीआईडी) में अतिरिक्त महानिदेशक हैं।

ममता बनर्जी के हैं खास
राजीव कुमार को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी का खास माना जाता है। उनपर आरोप है कि उन्होंने घोटाले की जांच में जरूरी सबूत दबा दिए थे। पश्चिम बंगाल पुलिस ने सीबीआई को सूचित किया है कि राजीव कुमार 9 सितंबर से 25 सितंबर तक छुट्टी पर थे।

No comments:

Post a Comment