Thursday, November 7, 2019

Ayodhya मामले पर फैसला आने से पहले पीएम मोदी की मंत्रियों को ये नसीहत

Ayodhya पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर पीएम मोदी ने सभी मंत्रियों को नसीहत दी कि वे सौहार्द का वातावरण बनाए रखने में मदद करें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोर्ट के फैसले का सम्मान करें। मंत्रियों को कैबिनेट के सभी फैसलों के बारे में भी जानकारी दी गई। इसके अलावा भाजपा ने भी अपने सभी सांसदों और विधायकों को निर्देश दिया है कि फैसले के मद्देनजर वे अपने क्षेत्र में रहें और सांप्रदायिक सौहार्द को बनाए रखने के लिए काम करें।

बता दें केंद्र सरकार ने Ayodhya मामले पर आने वाले इस फैसले को ध्यान में रखते हुए करीब 4 हजार जवानों को यूपी भेजा है। केंद्रीय शस्त्र पुलिस बल के ये जवान 18 नवंबर तक राज्य में रहेंगे। सोमवार को ही केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस बारे में फैसला लिया है। बता दें कि पूरे राज्य में धारा 144 लागू है। धार्मिक संगठन और नेता लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहे हैं। भाजपा ने भी अपने कार्यकर्ताओं से संयम बरतने की अपील की है।

बता दें कि 2 अगस्त 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने मध्स्थता प्रक्रिया के विफल रहने पर 6 अगस्त से रोजाना सुनवाई करने का फैसला लिया था। 16 अक्टूबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई पूरी कर ली। यानी 40 दिनों में सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों को विस्तार से सुना। यह सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में अब तक की दूसरी सबसे लंबी चली सुनवाई रही। मामले की सुनवाई करने वाली बेंच के अध्यक्ष CJI रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर होने वाले हैं। सुप्रीम कोर्ट के नियमों के तहत इससे पहले फैसला आना तय है।

    मैदान में क्रिकेट मैच खेलते हुए खिलाड़ी को देखकर फैंस को ख़ुशी तो बहुत होती है लेकिन इस मुक़ाम को पाने के लिए एक खिलाड़ी को किस किस दौर से…

    No comments:

    Post a Comment