Sunday, December 1, 2019

आदित्य बिड़ला फाइनेंस स्टॉक एक्सचेंजों पर वाणिज्यिक पत्रों की सूची बनाने वाली पहली कंपनी बन गई

आदित्य बिड़ला फाइनेंस स्टॉक एक्सचेंजों पर वाणिज्यिक पत्रों की सूची बनाने वाली पहली कंपनी बन गई आदित्य बिड़ला कैपिटल की नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (NBFC) की शाखा, आदित्य बिड़ला फाइनेंस लिमिटेड (ABFL) अब स्टॉक एक्सचेंजों पर अपने वाणिज्यिक पत्रों (CPs) को सूचीबद्ध करने वाली पहली कंपनी बन गई है। स्टॉक एक्सचेंजों के बाद यह कदम आता है- बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) और एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज), ऐसे प्रतिभूतियों में निवेशकों की भागीदारी को व्यापक बनाने के लिए वाणिज्यिक पत्र (सीपी) की सूची के लिए एक रूपरेखा के साथ आए।

मुख्य विचार

आदित्य बिड़ला फाइनेंस 28 नवंबर 2019 के मूल्य दिनांक और 7 फरवरी 2020 को परिपक्वता तिथि के साथ अपने वाणिज्यिक पत्र को सूचीबद्ध करने वाली पहली कंपनी है। एबीएफएल एक अच्छी तरह से विविध एनबीएफसी है जो एएए (स्थिर) दोनों की दीर्घकालिक क्रेडिट रेटिंग के साथ-साथ आईसीआरए भी है। भारत की रेटिंग के रूप में।

वाणिज्यिक कागजात की सूची से बाजार सहभागियों को कॉर्पोरेट उधार और तरलता की स्थिति के बारे में जानकारी के कुशल संचरण की उम्मीद है। यह सीपी बाजार के विकास के लिए भी प्रभावी रूप से योगदान देगा और कर्ज पूंजी बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ने की उम्मीद है।

एक वाणिज्यिक पत्र क्या है?

यह एक असुरक्षित मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट है जो कि प्रॉमिसरी नोट्स के रूप में जारी किया जाता है जो कि अत्यधिक रेटेड कॉर्पोरेट उधारकर्ताओं को अल्पकालिक उधार के स्रोतों को विविधता प्रदान करने में सक्षम बनाता है। यह निवेशकों को एक अतिरिक्त साधन भी प्रदान करता है। जारी होने की तारीख से न्यूनतम 7 दिनों और अधिकतम 1 वर्ष के बीच परिपक्वता के लिए सीपी जारी किए जा सकते हैं। वे आम तौर पर अंकित मूल्य से छूट पर जारी किए जाते हैं और बाजार की मौजूदा ब्याज दरों को दर्शाते हैं।

तो दोस्तों यहा इस पृष्ठ पर आदित्य बिड़ला फाइनेंस स्टॉक एक्सचेंजों पर वाणिज्यिक पत्रों की सूची बनाने वाली पहली कंपनी बन गई के बारे में बताया गया है अगर ये आपको पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने friends के साथ social media में share जरूर करे। ताकि वे इस बारे में जान सके। और नवीनतम अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

आदित्य बिड़ला फाइनेंस स्टॉक एक्सचेंजों पर वाणिज्यिक पत्रों की सूची बनाने वाली पहली कंपनी बन गई Parinaam Dekho.

No comments:

Post a Comment