Wednesday, December 4, 2019

लैरी पेज ने दिया इस्तीफा, अब अल्फाबेट के CEO का पद संभालेंगे…

Google को बनाने वाले लैरी पेज और सर्गी ब्रिन ने परिवार को वक़्त देने का हवाला देकर अपना पद छोड़ दिया है और इसी के साथ उनकी जिम्मेदारी सुंदर पिचाई के हाथों में आ गई है।

Google के CEO भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को एक नई जिम्मेदारी मिल गई है। Google की पैरेंटल कंपनी एल्फाबेट ने अब सुंदर पिचाई को अपना मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त कर दिया है। Google की शुरुआत 1997 में हुई थी, जिसके बाद से इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी की दुनिया में बदलाव हो गया। दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार Google और उसकी पैरेंट कंपनी का हेड अब एक भारतीय मूल का नागरिक है ये किसी बड़ी उपलब्धि से कम नहीं है।

CEO

Google के CEO सुंदर पिचाई (47) अब गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट के भी CEO बन गए हैं। भारतीय मूल के पिचाई 2004 से Google से जुड़े हुए हैं। दूसरे को-फाउंडर सर्गेई ब्रिन (46) ने भी अल्फाबेट के प्रेसिडेंट पद से इस्तीफा दे दिया। बता दें कि  कंपनी में अब प्रेसिडेंट का पद खत्म कर दिया जाएगा। पेज और ब्रिन ने एक ब्लॉग पोस्ट के जरिए मंगलवार(3 दिसंबर) को इन फैसलों का ऐलान किया। इस पद को हासिल कर पिचाई ने दोनों का आभार भी जताया।

दोनों को-फाउंडर ने कहा कि अल्फाबेट अब अच्छी तरह स्थापित हो चुकी है, एक स्वतंत्र कंपनी के तौर पर Google भी प्रभावी ढंग से चल रही है। मैनेजमेंट स्ट्रक्चर में बदलाव का यह सही वक्त है। जब भी हमें लगा कि कंपनी के संचालन का कोई और बेहतर तरीका है तो हमने कभी नहीं सोचा कि प्रबंधन की भूमिकाओं में रहें। अल्फाबेट और Google को अलग-अलग CEO और प्रेसिडेंट की जरूरत नहीं है।

हालाकिं पेज और ब्रिन अल्फाबेट के बोर्ड में बने रहेंगे। उनके पास कंपनी के कंट्रोलिंग वोटिंग शेयर हैं। पेज के पास 5.8% और ब्रिन के पास 5.6% शेयर हैं। पिचाई के पास 0.1% होल्डिंग है। यानी कंपनी के फाउंडर कभी भी CEO को चुनौती दे सकते हैं। Google ने कहा है कि वोटिंग स्ट्रक्चर में कोई बदलाव नहीं होगा। बता दें कि अल्फाबेट मार्केट कैप में दुनिया की तीसरी बड़ी कंपनी है, उसका वैल्यूएशन 893 अरब डॉलर (64 लाख करोड़ रुपए) है।

पेज और ब्रिन ने 1998 में Google की शुरुआत की थी। रिस्ट्रक्चरिंग के तहत 2015 में Google ने पेरेंट कंपनी अल्फाबेट बनाई थी, ताकि सर्च और डिजिटल के प्रमुख कारोबार के अलावा दूसरे प्रोजेक्ट संभाल सके। उस वक्त पेज Google के CEO पद से इस्तीफा देकर अल्फाबेट के CEO बने थे। पिचाई को Google के CEO की जिम्मेदारी दी गई थी। उससे पहले पिचाई Google की एंड्रॉयड और क्रोम यूनिट का नेतृत्व कर रहे थे। पिचाई 15 साल से Google में हैं। उन्होंने 2004 में कंपनी ज्वॉइन की थी।

    बॉलीवुड का हर सितारा तभी खास बनता है जब दर्शक उसको पसंद करें, इन सितारों में से एक हैं कोंकणा सेन शर्मा जिनके फैंस ने उन्हें हर अंदाज़ में पसंद…

    No comments:

    Post a Comment