Wednesday, May 20, 2020

भारत सरकार ने कचरा मुक्त शहरों की स्टार रेटिंग जारी की

भारत सरकार ने कचरा मुक्त शहरों की स्टार रेटिंग जारी की 19 मई 2020 को आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने वर्ष 2019-20 के लिए कचरा मुक्त शहरों की स्टार रेटिंग जारी की।

हाइलाइट

लगभग 5 शहरों को 5-स्टार रेटिंग दी गई थी। इसमें अंबिकापुर, सूरत, राजकोट, मैसूरु, इंदौर और नवी मुंबई शामिल हैं। मंत्रालय ने 65 शहरों को 3-स्टार रेटिंग और 70 शहरों को 1-स्टार रेटिंग दी थी।

रेटिंग के बारे में

रेटिंग सिस्टम को मंत्रालय द्वारा 2018 में लॉन्च किया गया था। यह कचरा मुक्त स्थिति प्राप्त करने के लिए एक तंत्र प्रदान करने के लिए लॉन्च किया गया था। साथ ही, ऐसी रेटिंग प्रणाली शहरों को उच्च स्वच्छता प्राप्त करने के लिए प्रेरित करेगी। रेटिंग मुख्य रूप से ठोस अपशिष्ट प्रबंधन पर केंद्रित है

महत्व

COVID-19 संकट से प्रभावी ठोस कचरा प्रबंधन और स्वच्छता के महत्व को सबसे आगे लाया गया है। ठोस कचरा प्रबंधन को स्वच्छ भारत मिशन के दूसरे चरण में भी शामिल किया गया है। इसके अलावा, गोआई ने देश की स्वच्छता का सर्वेक्षण करने के लिए स्वच्छ सर्वेक्षण शुरू किया। स्वच्छ सर्वेक्षण ने शहरों को उनकी स्वच्छता के आधार पर स्थान दिया। हालांकि, रैंकिंग प्रणाली में उनके अच्छे प्रदर्शन के बावजूद कुछ शहरों को ठीक से पहचाना नहीं जा सका। इस प्रकार, रेटिंग प्रोटोकॉल लॉन्च किया गया था।

COVID-19

आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने स्वास्थ्य जांच, पीपीई (व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण) और स्वच्छता कर्मचारियों को नियमित मजदूरी का भुगतान प्रदान किया है।

तो दोस्तों यहा इस पृष्ठ पर भारत सरकार ने कचरा मुक्त शहरों की स्टार रेटिंग जारी की के बारे में बताया गया है अगर ये आपको पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने friends के साथ social media में share जरूर करे। ताकि वे इस बारे में जान सके। और नवीनतम अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

भारत सरकार ने कचरा मुक्त शहरों की स्टार रेटिंग जारी की Parinaam Dekho.

No comments:

Post a Comment