Monday, May 18, 2020

NMDS द्वारा विकसित NMIS- राष्ट्रीय प्रवासी सूचना प्रणाली

NMDS द्वारा विकसित NMIS- राष्ट्रीय प्रवासी सूचना प्रणाली 16 मई 2020 को, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने राष्ट्रीय प्रवासी सूचना प्रणाली का शुभारंभ किया। यह प्रवासी श्रमिकों के लिए एक केंद्रीय ऑनलाइन भंडार है।

हाइलाइट

ऑनलाइन पोर्टल अंतर-राज्य संचार में प्रवासी श्रमिकों की सुगम आवाजाही में मदद करेगा। पोर्टल ने कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग जैसे फायदे भी जोड़े हैं जो COVID-19 प्रतिक्रिया कार्य में मदद करेंगे। रिपॉजिटरी में नाम, मोबाइल नंबर, उम्र, गंतव्य जिला, यात्रा की तारीख और मूल जिले जैसे विवरण होंगे। भारत सरकार अपने गृह शहरों में स्थानांतरित होने के लिए फंसे श्रमिकों और प्रवासियों की मदद के लिए कई उपाय कर रही है।

श्रमिक ट्रेनें

जीओआई ने 1,074 से अधिक श्रमिक ट्रेनों का संचालन किया, जिससे प्रवासियों को अपने घरेलू शहरों में वापस जाने की अनुमति मिल सके। इन ट्रेनों में 14 लाख से अधिक कर्मचारी काम करते हैं। इनमें से 80% ट्रेनें उत्तर प्रदेश में समाप्त हुईं। बिहार, मध्य प्रदेश के बाद यूपी का स्थान आया। इससे यह भी पता चलता है कि इन राज्यों में प्रवासी श्रमिकों की अधिकतम संख्या है।

तो दोस्तों यहा इस पृष्ठ पर NMDS द्वारा विकसित NMIS- राष्ट्रीय प्रवासी सूचना प्रणाली के बारे में बताया गया है अगर ये आपको पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने friends के साथ social media में share जरूर करे। ताकि वे इस बारे में जान सके। और नवीनतम अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

NMDS द्वारा विकसित NMIS- राष्ट्रीय प्रवासी सूचना प्रणाली Parinaam Dekho.

No comments:

Post a Comment