Friday, June 12, 2020

कोरोना : ब्रिटेन को पीछे छोड़ भारत चौथे स्थान पर, 11 दिनों में एक लाख से ज्यादा केस

Coronavirus in United States

देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. देश में कोरोना वायरस के 2 लाख 93 हजार से ज्यादा मामले हैं वहीं, अब तक 7400 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है. इस बीच भारत कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देशों की सूची में ब्रिटेन को पछाड़कर चौथे स्थान पर पहुंच गया है.

भारत में अभी कोरोना के 2 लाख 93 हजार 754 मामले हैं, वहीं इससे पहले चौथे स्थान पर काबिज ब्रिटेन में संक्रमितों का आंकड़ा 2 लाख 91 हजार 558 है. भारत अब रूस, ब्राजील और अमेरिका से ही पीछे रह गया है. अमेरिका में सबसे ज्यादा 20 लाख मामले हैं. वहीं, उसके बाद ब्राजील का नंबर आता है जहां संक्रमितों की संख्या साढ़े 7 लाख है. तीसरे स्थान पर रूस है, जहां 4 लाख 93 हजार से ज्यादा केस हैं.

11 दिनों में एक लाख से ज्यादा केस

देश में 31 मई तक 190609 मामले सामने आए थे और वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, 11 जून तक यह आंकड़ा 297001 तक पहुंच गया था. इस हिसाब से 11 दिनों में एक लाख छह हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं. मौतों की संख्या यूरोपीय देशों से काफी कमराहत की बात है कि स्पेन, इटली, ब्रिटेन की तुलना में भारत में मौतें काफी कम हुई हैं. ब्रिटेन की तुलना में महज 20 फीसदी मौतें भारत में हुई हैं. भारत में 50 फीसदी से ज्यादा मरीज स्वस्थ भी हो चुके हैं.

इस बीच केंद्र सरकार ने गुरुवार को देश में कम्युनिटी ट्रांसमिशन से इंकार किया. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के महानिदेशक बलराम भार्गव ने कहा, “यहां तक ​​कि भारत WHO की कम्‍युनिटी स्‍प्रेड की परिभाषा भी नहीं है. उन्‍होंने कहा कि भारत में कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन नहीं हो रहा. शब्‍द ‘कम्‍युनिटी स्‍प्रेड’ को लेकर काफी बहस की स्थिति है. स्वास्थ्य मंत्रालय की रोजाना प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह दावा किया गया है.

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

No comments:

Post a Comment