Saturday, June 27, 2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश में प्रवासी श्रमिकों के लिए आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान का शुभारंभ करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कोविड-19 महामारी की वजह से अन्‍य राज्‍यों से अपने घरों को लौटे उत्‍तर प्रदेश के श्रमिकों के लिए आज आत्‍मनिर्भर उत्‍तर प्रदेश रोजगार अभियान का शुभारंभ करेंगे। इसके अंतर्गत करीब सवा करोड़ लोगों को राज्‍य में विभिन्‍न योजनाओं और कार्यक्रमों में रोजगार उपलब्‍ध कराया जाएगा। अभियान की शुरुआत वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की उपस्थिति में की जाएगी। रोजगार अभियान के वर्चुअल उद्घाटन के अवसर पर राज्‍य के संबंधित मंत्रालयों के मंत्री भी उपस्थित रहेंगे।

रोजगार का नया अभियान, हर श्रमिक कामगार को काम – इसी लक्ष्य के साथ राज्य सरकार प्रदेश और केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत सवा करोड़ से ज्यादा लोगों को आज रोजगार मुहैया करायेगी। इस मौके पर आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत दो दशमलव चार लाख इकाइयों को उनसठ सौ करोड़ का कर्ज बांटा जायेगा। एक दशमलव एक लाख नयी इकाइयों को भी तीन हजार 226 करोड़ का ऋण दिया जायेगा। इसके साथ ही एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत विश्वकर्मा श्रम सम्मान के जरिये 5 हजार कुशल कामगारों को टूल किट भी दी जायेगी। आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान आज प्रदेश के 31 जिलों में एक साथ शुरू होगा। इनमें पांच आकांक्षी जिले भी शामिल हैं। प्रधानमंत्री इस अवसर पर छह जिलों के गांववालों से भी बातचीत करेंगे, जिनमें गोंडा, सिद्धार्थ नगर, बहराइच, गोरखपुर, संत कबीर नगर और जालौन शामिल हैं। प्रदेश के सभी जिले इस कार्यक्रम के दौरान जनसेवा केन्द्रों और कृषि विज्ञान केन्द्रों के जरिये जुड़ेंगे। आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान रोजगार पैदा करने, स्थानीय उद्यमिता को बढ़ावा देने और औद्योगिक संगठनों के साथ मिलकर रोजगार के नये अवसर तलाशने पर केन्द्रित है। उत्तर प्रदेश में लगभग तीस लाख के करीब मजदूर हाल ही में दूसरे राज्यों से वापस लौटे हैं।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

No comments:

Post a Comment