Tuesday, June 23, 2020

भारतीय सेना ने जारी किए एक वीडियो, कहा-बैट नहीं बैटमैन हैं' बिहार रेजीमेंट के जवान, देखें वीडियो!..

आज एक बार फिर मै खान पान से जुडी कुछ जरुरी बातों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

नई दिल्ली। लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सैनिकों से हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे, जिसमें 16 सैनिक बिहार रेजिमेंट के थे। भारतीय सेना ने शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए बिहार रेजिमेंट का एक वीडियो ट्वीट किया है। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वी लद्दाख की गलवां घाटी में शहीद हुए भारतीय सेना की बिहार रेजीमेंट के जवानों के शौर्य को सलाम किया।

भारतीय सेना की उत्तरी कमान ने अपने ट्विटर अकाउंड से वीडियो ट्वीट कर बिहार रेजीमेंट की शौर्य गाथा दिखाई गई है। इस ट्वीट के साथ ही लिखा है कि भारतीय सेना कारगिल के 21 साल…ध्रुव योद्धाओं की गाथा और बिहार रेजीमेंट के शेर लड़ने के लिए जन्में हैं, वे बैट नहीं बैटमैन हैं।
हर सोमवार के बाद मंगलवार आता है। &#8216बजरंग बली की जय।&#8217 यह वीडियो करीब दो मिनट का है।

#IndianArmy
#21yearsofKargil

Saga of #DhruvaWarriors and Lions of #BiharRegiment.
&ampdhaposBorn to fight.y are not the bats. y are the Batman.&ampdhapos
&ampdhaposAfter every #Monday, there will be a #Tuesday. Bajrang Bali Ki Jai&ampdhapos@adgpi
@MajorAkhill
#NationFirst
pic.twitter.com/lk8beNkLJ7

NorthernComd.IA (@NorthernComd_IA) June 20, 2020

वीडियो में 1857 से 1999 तक सेना की रेजिमेंट द्वारा किए गए कठिन अभियानों के बारे में बताया गया है। जब बिहार रेजिमेंट की पहली बटालियन ने पाकिस्तानी सेना से कारगिल में एक रणनीतिक क्षेत्र पर कब्जा किया था। वीडियो में मेजर अखिल प्रताप कह रहे हैं कि यह वही महीना था, 21 साल पहले। बिहार रेजिमेंट ने कारगिल घुसपैठियों को मार गिराया था।

वे ऊंचाइयों पर भी थे और क्या वे तैयार थे। वे हिम्मत के साथ गए और गौरव के साथ वापस आए। वीडियो में 16 बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संतोष बाबू को भी श्रद्धांजलि दी गई है, जो 15 जून की देर रात चीनी सैनिकों के साथ हुई झडप में शहीद होने वाले 20 जवानों में से एक थे। बिहार रेजिमेंट 1941 में अंग्रेजों द्वारा बनाई गई थी और आजादी के बाद भारतीय सेना द्वारा लड़े गए सभी प्रमुख युद्धों का हिस्सा रही है।

</>

No comments:

Post a Comment