Thursday, June 25, 2020

सर्दी-जुकाम के लिए पतंजलि ने मांगा था लाइसेंस, बना दिया कोरोनो की दवा, विभाग ने भेजा नोटिस!!..

आज एक बार फिर मै खान पान से जुडी कुछ जरुरी बातों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

देहरादून। कोरोना की दवा बनाने का दवा करने के बाद योग गुरू बाबा रामदेव की पतंजलि योग पीठ की दिव्य फार्मेसी ​मुश्किल में फंसती जा रही है। पतंजलि को सर्दी-जुकाम की दवा बनाने का लाइसेंस दिय गया था। ऐसे में वह कोरोना की दवा बनाने का दावा पेश कर दिए। इसके साथ ही बाबा रामदेव ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फेंस करके कहा कि पतंजलि ने कोरोना वायरस की दवा खोज ली है और इसे बाजार में लाया जा रहा है।

वहीं अब इसी बात को आधार बनाकर नोटिस जारी किया गया है। स्टेट ड्रग कंट्रोलर ने दिव्य योग फार्मेसी को नोटिस जारी कर दिया है। नोटिस में पूछा गया है कि दिव्य योग फार्मेसी ने कोरोना की जो दवा बनाने का दावा किया है उसका आधार क्या है?
फार्मेसी ने कोरोना किट बनाने की परमिशन कहां से ली और दूसरा प्रचार-प्रसार के लिए परमिशन क्यों नहीं ली? कहा गया है कि फार्मेसी ने ड्रग एंड कॉस्मेटिक्स एक्ट-1940 की धारा-170 का उल्लंघन कर भ्रामक प्रचार किया है।

स्टेट ड्रग कंट्रोलर द्वारा दिव्य योग फार्मेसी को भेजे नोटिस में कहा गया है कि कोई भी इस तरह का मैजिकल ट्रीटमेंट का दावा नहीं कर सकता। फिर बाबा रामदेव किस आधार पर कोरोना मरीजों के शत-प्रतिशत ठीक होने का दावा कर रहे हैं। वहीं, आयुष मंत्रालय के हरकत में आने के बाद इधर, उत्तराखंड के आयुष मंत्री हरक सिंह रावत ने भी ऐसा कोई लाइसेंस जारी करने से इंकार किया है।

</>

No comments:

Post a Comment